व्यापार

आर्थिक आंकड़ों, वैश्विक रुख और वित्तीय परिणाम तय करेंगे शेयर बाजार की चाल

आर्थिक आंकड़ों, वैश्विक रुख और वित्तीय परिणाम तय करेंगे शेयर बाजार की चाल

मुंबई। बीते सप्ताह तेजी में रहे शेयर बाजार की चाल अगले सप्ताह जारी होने वाले आर्थिक आंकड़ों, कंपनियों के तिमाही परिणाम, कंर्नाटक चुनाव केे नतीजे के अलावा वैश्विक रुख से तय होगी।

समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 1.78 प्रतिशत यानी 620.41 अंक की तेजी में 14 सप्ताह के उच्चतम स्तर 35,535.79 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 188.25 अंक यानी 1.77 प्रतिशत की छलांग लगाकर 10,806.50.अंक पर बंद हुआ।

इस दौरान बीएसई का मिडकैप 217.02 अंक यानी 1.31 प्रतिशत की साप्ताहिक गिरावट के साथ शुक्रवार को 16,343.99अंक पर और स्मॉलकैप 173.36 अंक यानी 0.96 प्रतिशत की गिरावट में 17,818.09 अंक पर बंद हुआ।

आगामी सप्ताह के दौरान एचयूएल, साउथ इंडियन बैंक, ल्यूपिन, रिलायंस कम्युनिकेशन, हिंडाल्को, आईटीसी, टाटा स्टील और टीवीएस मोटर्स के परिणाम जारी होने हैं। अगले सप्ताह 14 मई को कर्नाटक चुनाव के एग्जिट पोल , थोक मूल्य सूचकांक और मुद्रास्फीति दर के आंकड़े जारी होने हैं।

इसके बाद 15 मई को प्रसिद्ध ज्वेलरी डिजाइनर नीरव मोदी के घोटाले से सुर्खियों में रहे पंजाब नेशल बैंक का वित्तीय परिणाम जारी होना है। इसके साथ ही कर्नाटक चुनाव के नतीजे भी इसी दिन जारी होंगे।

बीते सप्ताह रिजर्व बैंक द्वारा देना बैंक पर रिण देने और नयी भर्ती करने पर लगाये गये प्रतिबंध और केनरा बैंक, यूको बैंक तथा ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स को घाटा होने की खबरों का असर भी अगले सप्ताह घरेलू शेयर बाजार पर रहेगा।

आलोच्य सप्ताह के दौरान ही इंफोसिस के स्वतंत्र निदेशक रवि वेंकटेशन ने अपने पद से इस्तीफा दिया है और आईआईपी के आंकड़े भी जारी हुए हैं, जिसका प्रभाव आगामी सप्ताह दिख सकता है।

वैश्विक स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों के उतार-चढाव का असर भी शेयर बाजार पर दिखेगा। इसके अलावा अमेरिका और उत्तर कोरिया के संबंधों में सुधार से निवेशकों का भरोसा बढ़ा है।

अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दवाओं की कीमत कम करने की अपनी नीति ‘ अमेरिकन पेटेंट फर्स्ट’ का ब्लूप्रिंट जारी किया है, जिससे दवा कंपनियाें के शेयरों पर असर पड़ सकता है।

आलोच्य सप्ताह के दौरान सेंसेक्स की 20 कंपनियां तेजी में रहीं जबकि शेष में गिरावट हावी रही। एशियन पेंट्स में सर्वाधिक 7.98 फीसदी की तेजी रही।

इसके अलावा एक्सिस बैंक में 6.32 , टाटा स्टील में 4.36, टाटा मोटर्स डीवीआर में 4.14, ओएनजीसी में 3.88, भारतीय स्टेट बैंक में 3.70, रिलायंस में 3.63, हिंदुस्तान यूनीलीवर में 2.82, कोटक बैंक में 2.75, आईटीसी में 2.31, महिंद्रा एंड महिंद्रा में 1.73, यस बैंक में 1.32, एल एंड टी में 1.23, एचडीएफसी बैंक में 1.15, अदानी पोटर्स में 0.85, इंफोसिस में 0.69, मारुति में 0.68, विप्रो में 0.65, एचडीएफसी में 0.48 और इंडसइंड बैंक में 0.40 प्रतिशत की साप्ताहिक तेजी दर्ज की गई।

इस अवधि में सन फार्मा के शेयरों में 9.04 फीसदी की गिरावट दर्ज की गयी। इसके साथ ही डॉ रेड्डीज के शेयर 5.46, भारती एयरटेल के 2.75, बजाज ऑटो के 2.56, एनटीपीसी के 2.05, हीरो मोटोकॉर्प्स के 1.19, टाटा मोटर्स के 1.05, टीसीएस के 0.58, कोल इंडिया के 0.44 और पावर ग्रिड के 0.26 फीसदी लुढ़क गए।

Article आर्थिक आंकड़ों, वैश्विक रुख और वित्तीय परिणाम तय करेंगे शेयर बाजार की चाल took from Sabguru News.

Leave a Comment