व्यापार

प्रभु के अमेरिका दौरे से बंधी व्यापार मुद्दे सुलझने की उम्मीद : सीआईआई

प्रभु के अमेरिका दौरे से बंधी व्यापार मुद्दे सुलझने की उम्मीद : सीआईआई

नई दिल्ली। उद्योग संगठन भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) ने रविवार को अमेरिका के साथ द्विपक्षीय व्यापारिक मसलों को सुलझाने की राह सुगम बनाने के मकसद से वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु के हालिया अमेरिका दौरे की सराहना की। वाणिज्य मंत्री के दो दिवसीय (10-12 जून) अमेरिका दौरे में अमेरिकी वाणिज्य मंत्री बिल्बर रॉस और यूनाइटेड स्टेटस ट्रेड रिप्रेजेंटेटिव (यूएसटीआर) रॉबर्ट लिग्थाइजर के साथ प्रभु की वाशिंगटन में कई दौर के दौरान भारत और अमेरिका द्विपक्षी व्यापार मसले को सुलझाने के लिए जल्द अधिकारी स्तर की बातचीत पर सहमत हुए।

उद्योग संगठन ने एक बयान में कहा, “सीआईआई का मानना है कि यूएसटीआर के अधिकारी जल्द भारत आएंगे। उम्मीद है कि व्यापार मसलों पर बातचीत के पैकेज में भारत के लिए सामान्य वरीयता प्रणाली का नवीकरण भी शामिल होगा, जिसके तहत भारत अमेरिका को तकरीबन छह अरब डॉलर मूल्य निर्यात करता है।“

अमेरिका ने मार्च में विदेशों से आयात होने वाले इस्पात पर 25 फीसदी और अल्युमीनियम पर 10 फीसदी शुल्क लगा दिया जिसको लेकर वैश्विक व्यापार युद्ध की संभावना पैदा हो गई क्योंकि चीन की ओर से इस पर प्रतिक्रिया जाहिर की गई। चीन और अमेरिका में व्यापारिक हितों के टकराव को लेकर परस्पर आयात शुल्क लगाने का सिलसिला आगे भी जारी रहा।

भारत की मांग है कि अमेरिका से यूरोपीय संघ, अर्जेटीना, आस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, मेक्सिको और दक्षिण कोरिया की तरह उसे भी आयात शुल्क से मुक्त रखा जाए।

Leave a Comment