व्यापार

लोन लेना हुआ महंगा, बढ़ गई आपकी EMI, एसबीआई ने की 10 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी

लोन लेना हुआ महंगा, बढ़ गई आपकी EMI, एसबीआई ने की 10 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी

आज से लोन लेना महंगा हो गया है। इसके साथ ही जिन लोगों का लोन पहले से चल रहा है, उनको भी अब ज्यादा ईएमआई देनी होगी। देश के सबसे बड़े बैंक–स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने मॉर्जिनल कॉस्ट ऑफ लैंडिंग रेट (एमसीएलआर) में 10 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी कर दी है।

बैंक ने दूसरी बार ब्याज दरों में बढ़ोतरी की है। इससे पहले मार्च में भी बैंक ने एमसीएलआर में बढ़ोतरी की थी। बैंक ने यह कदम आरबीआई द्वारा मॉनेटरी पॉलिसी के आने से कुछ दिन पहले उठाया है। आरबीआई के निर्देशानुसार बैंक अब होम लोन को एमसीएलआर से ही लिंक कर सकते हैं।

एसबीआई के इस कदम के बाद अन्य बैंक भी ऐसा कर सकते हैं। हालांकि विशेषज्ञों के मुताबिक आरबीआई भी रेपो रेट में बढ़ोतरी कर सकता है।

आरबीआई की मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी की बैठक अगले महीने 4 जून से शुरू होगी। तीन दिन चलने वाली इस बैठक की समाप्ति 6 जून को होगी। इसी दिन कमेटी नए रेपो रेट की घोषणा करेगी। इस कमेटी में आरबीआई के गवर्नर उर्जित पटेल समेत छह लोग हैं।

कच्चे तेल और महंगाई दर बढ़ने के कारण आरबीआई रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी कर सकता है। अगर आरबीआई रेपो रेट में बदलाव नहीं भी करता है, तो भी बैंक अपनी तरफ से ब्याज दरों में बढ़ोतरी कर सकते हैं। इससे लोगों को ज्यादा ब्याज देना पड़ेगा।

होम लोन, कार लोन, पर्सनल लोन, एजूकेशन लोन, टू-व्हीलर लोन सहित अन्य सभी प्रकार के लोन की ईएमआई बढ़ जाएगी। पेट्रोल-डीजल के दामों में यही रफ्तार बनी रही तो फिर आरबीआई कड़ा कदम उठाने से पीछे नहीं हटेगा। अगर अगस्त में भी यही हाल रहा तो फिर आरबीआई ब्याज दरों में 50 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी कर देगा, जिससे लोगों की जेब पर काफी असर पड़ने की संभावना है।

Leave a Comment