हेल्थ

सामाजिक रूप से सक्रिय आदमी के दिमाग पर आयु का पड़ता असर

सामाजिक रूप से सक्रिय आदमी के दिमाग पर आयु का पड़ता असर

 उम्र का प्रभाव देर से होता है, दिमाग सुरक्षित रहता है  ज़िंदगी स्तर में सुधार होता है   यह खुलासा एक नए शोध में हुआ है शोध के अनुसार, यादों, भावनाओं  प्रेरणाओं को महसूस करने वाला दिमाग का भाग स्पष्ट रूप से आयु के साथ प्रभावित होता है   लोगों के दिमाग के इस हिस्से में सामाजिक संबंध संरक्षित रहते हैं अमेरिका के कोलंबस में ‘ओहियो स्टेट विश्वविद्यालय’ में ‘न्यूरोलॉजिकल इंस्टीट्यूट’ की मुख्य शोधकर्ता एलिजाबेथ किर्बी ने कहा, “हमारे शोध में खुलासा हुआ कि सामाजिक रूप से सक्रिय आदमी के दिमाग पर आयु का असर पड़ता है ”

जर्नल ‘फ्रंटियर इन एजिंग न्यूरोसाइंस’ प्रकाशित शोध के तहत शोधकर्ताओं के दल ने 15-18 महीने के चूहों के दो समूह बनाकर तीन महीनों तक अध्ययन किया जब उनकी प्राकृतिक स्मरण शक्ति में गिरावट आने लगती है चूहों को एक खिलौना पहचानने का शोध कर उनकी स्मरण शक्ति परखी गई शोध के परिणामों के अनुसार समूह में रहने वाले चूहों की स्मरण क्षमता बेहतर थी   किर्बी ने कहा, “जहां अकेले साथी के साथ रहने वाले चूहे यह पहचानने में असफल रहे कि किसी चीज को हटाया गया है, वहीं समूह में रहने वाले चूहों ने बेहतरीन परिणाम दिए

वे दूसरी स्थान रखे गए पुराने खिलौने के पास गए  अपने जगह पर रखे गए दूसरे खिलौने को उन्होंने नजरंदाज कर दिया ” उन्होंने बोला कि भविष्य में शोध कर सामाजिक स्वभाव का स्मरण शक्ति  मानसिक सेहत से संबंधों का भी खुलासा किया जा सकेगा

Article सामाजिक रूप से सक्रिय आदमी के दिमाग पर आयु का पड़ता असर took from Poorvanchal Media | Breaking Hindi News| Current Hindi News| Latest Hindi News | National Hindi News | Hindi News Papers | Hindi News paper| Hindi News Website| Indian News Portal – Poorvanchalmedia.com.

Leave a Comment