हेल्थ

घमौरी होने के कारण और उससे निपटने के लिए अचूक घरेलू इलाज

घमौरी होने के कारण और उससे निपटने के लिए अचूक घरेलू इलाज

गर्मी के मौसम में लगभग सभी के शरीर पर छोटे छोटे दाने निकल आते हैं, जिन्हें हम घमौरियां कहते हैं। शरीर पर घमौरियां होने का मुख्य कारण है गर्मी। इसलिए जब गर्मियों का मौसम आता है, तो पसीने के कारण यह घमौरियां हमारे शरीर पर अधिक मात्रा में फैल कर जलन पैदा करती है। ऐसे में अगर हम गर्मियों के दिनों में सूती कपड़े पहने तो यह पसीना सोक लेते हैं। जिसे काफी हद तक हमें घमौरियो से राहत मिलती है ।

घमौरियां होने के कारण
गर्मी का मौसम आते ही हमें कई तरह की बीमारियों का सामना करना पड़ता है जैसे लू लगना, चक्कर आना, उल्टी, दस्त, घबराहट, शरीर पर घमौरियों का होना आदि । गर्मियों के दिनों में हमारे शरीर से पसीना अधिक मात्रा में बहता है और जब हम इसे अच्छे से साफ़ नहीं करते तो पसीना सुख जाता है और इसकी ग्रन्थियां बंद हो जाती है और यह घमौरियों का रूप धारण कर लेती हैं। यह हमारे शरीर के बगल, कंधो, छाती आदि पर होती है इसके कारण हमारे शरीर में खुजली के साथ-साथ हल्की सी चुभन भी होती है। यह गर्मी के दिनों के साथ-साथ बरसात में भी हो सकती है। इससे बचने के लिए जितना हो सकें हमें गर्मी से बच कर रहना चाहिए।

घमौरियों का उपचार
घमौरियों को चर्म रोग भी कहा जा सकता है। जब भी हमारे शरीर पर घमौरियां होती है, तो हमें बहुत ही परेशानियों का सामना करना पड़ता है ऐसे में हमारा मन काम में नहीं लगता और हमारा स्वभाव चिड़चिड़ा सा हो जाता है। ऐसे में हमें कुछ घरेलू उपाय करने चाहिए जिससे हम घमौरियों से राहत पा सकते हैं जैसे कि…

नीम की पत्तियाँ
नीम में एंटीबायोटिक गुण होते हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं, इसलिए घमौरियां होने पर नीम की कुछ पत्तियों को उबाल कर, उस पानी से स्नान करें। ऐसा करने से आप को घमौरियों से राहत मिलती है। नीम और तुलसी की पत्तियों को लेकर एक पेस्ट तैयार करें फिर उसे घमौरियों वाले स्थान पर लगायें। ऐसा करने से आप को ठंडक के साथ-साथ राहत का एहसास होगा

फलों के रस का सेवन
शरीर में अधिक गर्मी की मात्रा बढ़ जाने से हमें घमौरियां होने लगती है। इससे बचने के लिए हमें अधिक मात्रा में तरल पदार्थ का सेवन करना चाहिए और रोगी को अधिक मात्रा में फलों के रस का सेवन करना चाहिए। ऐसे में घमौरियां ठीक होने लगती है।

मुल्तानी मिट्टी का लेप
मुल्तानी मिट्टी में पानी मिलाकर एक पेस्ट तैयार करें। उस पेस्ट को अपने शरीर पर अच्छे से लगाये और सूखने के बाद स्नान करें। इससे आप को गर्मी से होने वाली जलन से छुटकारा मिलेगा ।

बर्फ का इस्तेमाल
गर्मी के दिनों में आसानी से उपलब्ध हो जाती है बर्फ। घमौरियां होने पर शरीर पर खुजली और जलन होने लगती है। ऐसे में हमें बर्फ का इस्तेमाल करना चाहिए और इसे घमौरियों वाले स्थान पर लगाना चाहिए।

एलोवेरा
एलोवेरा से त्वचा की परेशानी को आसानी से दूर किया जा सकता है और यह घमौरियों को ठीक करने के लिए भी एक अच्छा विकल्प है। इसका गुदा निकाल कर लगाने से घमौरियां ठीक हो जाती है ।

चन्दन की पेस्ट
चन्दन से हमें ठंडक का एहसास होता है इसलिए घमौरियां होने पर चन्दन की पेस्ट लगानी चाहिए ।

सावधानियां
जब भी आप को चरम रोग या घमौरियो का सामना करना पड़ता है, तो इस बात का हमेशा ख्याल रखें कि ज्यादा फिटिंग वाले कपड़े न पहने और जितना हो सके काटन के कपड़े पहनेंं, अधिक गर्म मसालों का सेवन न करें, अधिक धूप में न निकले।

Leave a Comment