हेल्थ

दिल को रखना है दुरुस्त तो करना होगा ये काम

दिल को रखना है दुरुस्त तो करना होगा ये काम

आप के दिल को जवां रख सकती है  साथ ही दिल संबंधी रोगों का जोखिम भी घटा सकती है शोध से पता चला है कि रात में सात घंटा नींद लेने वाले वयस्कों में दिल का बुढ़ापा सबसे कम हैसात घंटे से कम या ज्यादा की नींद का संबंध दिल की जवानी से जुड़ा हुआ है, जबकि कम नींद लेने वालों के दिल में बूढ़ापन देखा गया है नींद की अवधि, दिल की आयु के साथ मिलकर दिल संबंधी जोखिमों और नींद की अवधि के फायदे के संप्रेषण में मददगार साबित हो सकती है

अमेरिका के जार्जिया में इमोरी विश्वविद्यालय की जूलिया दुरमर ने कहा, “ये परिणाम जरूरी हैं, क्योंकि यह लोगों के दिल संबंधी जोखिमों के संचार और नींद की अवधि को शामिल करने के परिमाणात्मक पद्धति को प्रदर्शित करते हैं ” इस शोध का प्रकाश ‘स्लीप’ नामक पत्रिका में हुआ हैइसमें 12,775 वयस्कों के आंकड़ों को शामिल किया गया, जिनकी आयु 30 से 74 वर्ष के बीच थी

दुनिया के 77 फीसदी युवा, नींद ना आने की वजह से बीमार हो रहे हैं
अगर आप 8 से 9 घंटे की नींद ले रहे हैं तो आप संसार के सबसे खुशकिस्मत लोगों में से एक हैंलेकिन दुख की बात ये है कि संसार के 77 फीसदी युवा, नींद ना आने की वजह से बीमार हो रहे हैंइस सर्वे में हिंदुस्तान सहित संसार के 13 राष्ट्रों के 15 हज़ार लोगों को शामिल किया गया है

इस सर्वे में हिंदुस्तान  जापान के लोगों की हालत चिंताजनक है इन दोनों ही राष्ट्रों के लोग औसतन 7 घंटे से कम सोते हैं जबकि अच्छी नींद लेने वाले राष्ट्रों की लिस्ट में Argentina, Spain  Ukraine शामिल है इन राष्ट्रों में लोग औसतन 10 घंटे की नींद लेते हैं  एक सर्वे के मुताबिक जापान में कार्य के दबाव की वजह से करीब 2 हज़ार लोग  हर वर्ष आत्महत्या कर लेते हैं इनमें से ज़्यादातर लोग कम नींद लेने की वजह से डिप्रेशन से पीड़ित होते हैं

इस समस्या को कम करने के लिए जापान की कुछ कंपनियों ने अपने कर्मचारियों के लिए Office में ही नींद लेने की व्यवस्था की है कुछ देर की नींद से कर्मचारी तरोताज़ा महसूस करते हैं  फिर कार्यमें लग जाते हैं  लेकिन हिंदुस्तान की स्थिति जरा हटकर है

Article दिल को रखना है दुरुस्त तो करना होगा ये काम took from Poorvanchal Media | Breaking Hindi News| Current Hindi News| Latest Hindi News | National Hindi News | Hindi News Papers | Hindi News paper| Hindi News Website| Indian News Portal – Poorvanchalmedia.com.

Leave a Comment