हेल्थ

सेहत के लिए नुकसानदेह होते हैं पेन किलर्स

सेहत के लिए नुकसानदेह होते हैं पेन किलर्स

शरीर के किसी भी हिस्से में दर्द होने पर पेन किलर्स खाते हैं तो आप अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। पेन किलर्स के कई तरह के साइड इफेक्ट्स होते हैं। ऐसे में यह दर्द से तुरंत राहत तो दिला देते हैं लेकिन बाद में किसी बड़ी परेशानी की नींव रख जाते हैं। दर्द से राहत पाने के लिए तमाम प्राकृतिक तरीके या फिर ऐसे नुस्खे हैं जो बिना साइड इफेक्ट आराम देते हैं। पेन किलर की बजाय इन नुस्खों का इस्तेमास ज्यादा सेहतमंद होता है। आइए, आज हम आपको कुछ ऐसे ही तरीकों के बारे में बताते हैं जो दर्द में दर्द निवारक गोलियों से ज्यादा बेहतर और सुरक्षित विकल्प होते हैं।

एक्सरसाइज और योग – योग और व्यायाम दर्द का सबसे सुरक्षित और प्रभावी प्राकृतिक व्यायाम है। माहवारी के दिनों में भी अक्सर महिलाओं को एक्सरसाइज करने की सलाह दी जाती है। ऐसा इसलिए क्योंकि व्यायाम करने से हमारे शरीर में फील-गुड केमिकल्स रिलीज होते हैं। इन्हें एंडोर्फिन्स कहा जाता है। इससे दर्द से काफी राहत मिलती है। इसके अलावा व्यायाम से नसों में रक्त संचार दुरुस्त होता है। दर्द से निजात दिलाने में यह भी बहुत मददगार है।

एल्कोहल से परहेज – बहुत से लोग शरीर के किसी भी हिस्से का दर्द एल्कोहल से भुलाना चाहते हैं। यह सही तरीका नहीं है। एल्कोहल आपके दर्द को बढ़ा देता है। साथ ही, दर्द के दौरान एल्कोहल का सेवन करने से शरीर के अन्य हिस्सों में भी दर्द उठने की संभावना होती है।

जंक फूड से बचें – एल्कोहल की तरह बहुत से लोग जंक फूड को भी दर्द के दौरान राहत पाने का उपाय मानते हैं। उनका मानना होता है कि इससे आप दर्द में भी बेहतर फील करते हैं। जबकि ऐसा नहीं है। जंक फूड का सेवन पाचन तंत्र को कमजोर बनाता है। ऐसे में एसिडिटी आदि की समस्या जन्म लेती है जो दर्द को और बदतर बना देती है।

हर्बल नुस्खे – दर्द से राहत पाने के लिए हर्बल नुस्खे सबसे सही विकल्प होते हैं। यह दर्द को जड़ से खत्म करने की क्षमता रखते हैं। इनका कोई साइड इफेक्ट नहीं होता और यह घर पर ही आसानी से बनाए जा सकते हैं। इनकी ज्यादातर सामग्री आपके रसोईघर में मौजूद होती है। लेकिन, इनका इस्तेमाल करने से पहले एक्सपर्ट्स से सलाह जरूर लें।

Leave a Comment