बिहार

मोतिहारी बस हादसे में नहीं हुई कोई मौत, सीएम-डिप्टी सीएम सब ने जताया था शोक

मोतिहारी बस हादसे में नहीं हुई कोई मौत, सीएम-डिप्टी सीएम सब ने जताया था शोक

पटना| बिहार के पूर्वी चंपारण जिले में गुरुवार को एक यात्री बस के पलट जाने और उसके बाद आग लगने की घटना में किसी भी व्यक्ति की मौत नहीं हुई है। बिहार के आपदा प्रबंधन मंत्री दिनेश चंद्र यादव ने शुक्रवार को कहा कि कई टीमों की जांच के बाद स्पष्ट हुआ है कि बस में किसी भी यात्री की मौत दुर्घटना में नहीं हुई है। आपको बता दें कि राज्य के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री सहित प्रतिपक्ष के नेता ने भी शोक जता दिया था और श्रद्धांजलि दे दी थी। यादव ने ही इस दुर्घटना के बाद 27 लोगों के मरने की पुष्टि की थी।

आपको बता दें कि राज्य के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री सहित प्रतिपक्ष के नेता ने भी शोक जता दिया था और श्रद्धांजलि दे दी थी। यादव ने ही इस दुर्घटना के बाद 27 लोगों के मरने की पुष्टि की थी।

सबसे हैरत करने वाली बात है कि भले ही दुर्घटना में किसी की भी मौत नहीं हुई हो परंतु राज्य के मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री सहित प्रतिपक्ष के नेता ने भी बिना किसी के मौत के मृतकों को श्रद्धांजलि दे दी।

आपदा प्रबंधन मंत्री ने गुरुवार के अपने बयान से यू-टर्न लेते हुए कहा कि स्थानीय लोगों से मिली जानकारी के आधार पर 27 लोगों की मौत की बात कही थी। बस में 13 लोग मुजफ्फरपुर से आ रहे थे। आठ लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

उन्होंने कहा कि पांच लोगों का बस में कोई सुराग नहीं मिला और ना ही उनके अवशेष मिले। उन्होंने कहा कि कम से कम इन लोगों जली हुई हड्डी मिलनी चाहिए, बस में ज्यादा देर तक आग नहीं लगी थी। विभाग के एक अधिकारी ने भी सात लोगों के मरने की पुष्टि की थी।

इधर, बस हादसे के बाद मुजफरपुर से पहुंची फरेंसिंक टीम ने शुक्रवार को घटना की जांच की। टीम ने घटनास्थल पर मौजूद साक्ष्य को एकत्र किया। टीम ने बस के अंदर भी गहनता से पड़ताल की। जले व अधजले साक्ष्य को एकत्र कर टीम अपने साथ ले गई है।

इधर एनडीआरएफ की टीम भी घटनास्थल व आसपास की तलाशी ली। पूर्वी चंपारण के जिला प्रशासन का दावा है कि अभी तक किसी के भी मरने के साक्ष्य नहीं मिले हैं।

इधर, इस घटना के बाद सरकार के ‘अफवाह पर ध्यान नहीं देने’ के वाक्य की भी हवा निकल गई। दूसरे को अफवाह पर ध्यान नहीं देने की नसीहत देने वाली सरकार गुरुवार को खुद अफवाह में फंस गई। यही कारण है कि बिना किसी के शव मिले ही मंत्री ने 27 लोगों के मरने की पुष्टि कर दी और बिना कुछ तहकीकात के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी तथा बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव सहित कई नेताओं ने भी मृतकों के प्रति श्रद्धांजलि व्यक्त की दी।

उल्लेखनीय है कि गुरुवार को मुजफ्फरपुर से दिल्ली की ओर जा रही एक यात्री बस पूर्वी चंपारण जिले के कोटवा थाना के राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या -28 पर बगरा के पास बस सड़क से अचानक नीचे उतर गई और गड्ढे में पलट गई। बस के पलटने के बाद उसमें आग लग गई थी।

Article मोतिहारी बस हादसे में नहीं हुई कोई मौत, सीएम-डिप्टी सीएम सब ने जताया था शोक took from Puri Dunia | पूरी दुनिया.

Leave a Comment