दिल्ली

बीजेपी और कांग्रेस की स्पष्टता के बीच चुनाव की दुविधा है…

बीजेपी और कांग्रेस की स्पष्टता के बीच चुनाव की दुविधा है…

जबलपुर 20 नवंबर :- विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कांग्रेस को दुविधाग्रस्त पार्टी करार दिया और कहा कि मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव और आने वाला लोकसभा चुनाव भारतीय जनता पार्टी की स्पष्टता और कांग्रेस की दुविधा के बीच होगा।
श्रीमती स्वराज ने कल देर शाम पत्रकारों से बातचीत में कहा कि तीन बार से लगातार मध्यप्रदेश में भाजपा की सरकार बन रही है और चौथी बार भी जनता का आशीर्वाद प्राप्त करने पार्टी चुनाव मैदान में हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस दुविधाग्रस्त पार्टी है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस में यह दुविधा है कि अन्य पार्टियों से गठबंधन कैसे किया जाये। यदि गठबंधन हो गया तो राहुल गांधी नेता के रूप में कैसे स्वीकार होंगे। उन्होंने कहा कि सबसे बड़ी दुविधा उनके नेता की छवि को लेकर है कि राहुल गांधी को किस रूप में प्रोजैक्ट किया जाये।

श्रीमती स्वराज ने आगे कहा कि वर्षो तक कांगेस ने राहुल गांधी को एक धर्मनिरपेक्ष नेता के रूप में प्रस्तुत किया है, फिर उन्हें लगा कि हिंदू देश में बहुसंख्यक है तो उन्होंने उनकी छवि हिंदू नेता के रूप में बनाने पर विचार किया, उसमें भी दुविधा बनी रही। इसके बाद भी उन्हें लगा कि दूसरा वोट बैंक न खिसक जाये तो राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ RSS की आलोचना करने लगे।

उन्हाेने कहा कि भाजपा की नीति और नीयत साफ है। भाजपा में स्पष्टता है, कोई दुविधा नहीं है, इसीलिये प्रदेश की जनता में भी कोई दुविधा नहीं है। उन्होंने दावा किया कि प्रदेश में चौथी बार भी भाजपा की सरकार बनेगी।

Article बीजेपी और कांग्रेस की स्पष्टता के बीच चुनाव की दुविधा है… took from Sabguru News.

Leave a Comment