दिल्ली

59 सीटों पर हुए राज्यसभा चुनाव – बीजेपी बनी सबसे बड़ी पार्टी, जानिए पूरा लेखा-जोखा

59 सीटों पर हुए राज्यसभा चुनाव – बीजेपी बनी सबसे बड़ी पार्टी, जानिए पूरा लेखा-जोखा

नई दिल्ली। तमाम राजनीतिक उथल-पुथल के बीच राज्यसभा चुनाव खत्म हो चुका है। खाली हुई 59 सीटों के लिए हुए मतदान में 33 सीटों पर निर्विरोध उम्मीदवार चुने गए। इन चुनावों में बीजेपी अपना रुतबा बरकरार रखते हुए सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी है। सबसे ज्यादा घमासान यूपी के चुनाव में देखन को मिला। यहां की 9 सीटें सीधे-सीधे भाजपा के खाते में चली गई। केवल एक सीट पर समाजवादी पार्टी की जया बच्चन विजयी घोषित की गई। मतदान शुक्रवार सुबह नौ बजे शुरु होकर शाम पांच बजे तक चला। देश के 6 राज्यों में इन चनावों के लिए वोटिंग कराई गई। जिसके नतीजे घोषित हो चुके हैं।

जानिए कौन-कौन चुना गया निर्विरोध
राज्यसभा की 33 सीटों पर उम्मीदवार निर्विरोध चुने गए। इनमें बीजेपी के 17, कांग्रेस के 4, बीजेडी के 3, आरजेडी के 2, टीडीपी के 2, जेडीयू के 2, शिवसेना, एनसीपी और वाईएसआरसी का एक-एक उम्मीदवार शामिल है। बीजेपी की तरफ से रविशंकर प्रसाद (बिहार), धर्मेंद्र प्रधान और थावरचंद गहलोत (मध्य प्रदेश), जेपी नड्डा (हिमाचल), प्रकाश जावड़ेकर (महाराष्ट्र), मनसुखभाई मांडविया और पुरुषोत्तम रूपाला (गुजरात) निर्विरोध चुने जाने वालों में शामिल हैं।

पश्चिम बंगाल में टीएमसी के चार उम्मीदवारों को जीत हासिल हुई
पश्चिम बंगाल में राज्यसभा के लिए कोलकाता में हुए मतदान में कांग्रेस उम्मीदवार अभिषेक मनु सिंघवी और तृणमूल कांग्रेस के चार उम्मीदवारों को जीत हासिल हुई।

राज्यसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस का समर्थन सिंघवी को था, जिन्होंने पांचवें उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ा था। कांग्रेस के पास यहां अपने उम्मीदवार को जितवाने के लिए विधानसभा में पर्याप्त संख्याबल नहीं था।

राज्यसभा चुनाव जीतने वाले तृणमूल कांग्रेस के चार उम्मीदवार नदीमुल हक, सुभाशीष चक्रवर्ती, अबीर बिश्वास और शांतनु सेन हैं। नदीमुल हक को 52 मत, सुभाशीष चक्रवर्ती को 54, अबीर विश्वास को 52 और शांतनु सेन को 51 मत मिले। कांग्रेस के अभिषेक मनु सिंघवी को 47 मत मिले। जबकि वाम समर्थित माकपा उम्मीदवार राबिन डे को हार का सामना करना पड़ा।

मध्य प्रदेश में पांच में से चार सीटें बीजेपी के खाते में
मध्य प्रदेश की 5 सीटों में से चार बीजेपी और एक कांग्रेस के खाते में गई है। यहां से बीजेपी के अशोक प्रधान, थावर चंद गहलोत, अजय प्रताप और कैलाश सोनी निर्विरोध चुनकर राज्यसभा पहुंच गए हैं। कांग्रेस के राजमणि पटेल भी उच्च सदन के लिए चुने गए।

केरल में जेडीयू का पलड़ा भारी
केरल से जेडीयू के वीरेंद्र कुमार चुने गए हैं। यहां एक सीट के लिए हुए चुनाव में माकपा नीत एलडीएफ से समर्थन प्राप्त उम्मीदवार वीरेंद्र कुमार को 89 मत मिले जबकि विपक्षी यूडीएफ के उम्मीदवार बी बाबू प्रसाद को 40 मत मिले। वीरेंद्र कुमार ने बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू नेता नीतीश कुमार के राजग से हाथ मिलाने के विरोध में संसद के उच्च सदन से इस्तीफा दे दिया था।

वहीं छत्तीसगढ़ की एकमात्र सीट के लिए चुनाव में बीजेपी की सरोज पांडे ने कांग्रेस के लेखराम साहू को हराया। रायपुर में विधानसभा परिसर में हुए चुनाव में पांडे को 51 वोट मिले जबकि साहू को 36 मत मिले।

उत्तर प्रदेश में मुकाबला रहा दिलचस्प
उत्तर प्रदेश राज्यसभा चुनाव बड़ा ही दिलचस्प रहा। जहां बीजेपी ने अपने 10 उम्मीदवार खड़े किये थे वहीँ, सपा और बसपा मिलकर एक प्रत्याशी को जिताने की कोशिश में लगे थे। लेकिन आखिरकार बीजेपी ने सपा-बसपा के गठबंधन को मात दे ही दिया। 10 में 9 सीटों पर भाजपा ने जीत दर्ज कर ली। जबकि समाजवादी पार्टी की जया बच्चन को 38 वोट मिले हैं। वहीं बसपा को अपनी सीट गवानी पड़ी।

जानिए कर्नाटक का हाल
कर्नाटक में सत्तारूढ़ कांग्रेस के तीनों उम्मीदवारों ने राज्यसभा चुनाव में जीत हासिल की जबकि विपक्षी भाजपा के खाते में एक सीट गयी। जेडीएस ने चुनाव में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए चुनाव का बहिष्कार किया।

तेलंगाना राष्ट्र समिति के उम्मीदवार बी प्रकाश, बी लिंगैया यादव और जे संतोष कुमार तेलंगाना से राज्यसभा के लिए निर्वाचित हुए। मुख्य विरोधी दल कांग्रेस के उम्मीदवार पी बलराम को यहां हार का सामना करना पड़ा।

प्रकाश यादव और संतोष कुमार को 33, 32 और 32 मत मिले। आधिकारिक सूत्रों ने आज कहा कि बलराम को महज 10 वोट मिले थे। भाजपा की राष्ट्रीय महासचिव सरोज पांडे ने छत्तीसगढ़ में राज्यसभा की एकमात्र सीट पर आज हुए चुनाव में कांग्रेस प्रतिद्वंद्वी लेखराम साहू को हरा दिया। राज्य विधानसभा सचिव चंद्र शेखर गंगराडे ने बताया कि राज्य विधानसभा परिसर में हुए चुनाव में पांडे को 51 मत मिले जबकि साहू को 36 मत मिले। गंगराडे निर्वाचन अधिकारी भी हैं।

Article 59 सीटों पर हुए राज्यसभा चुनाव – बीजेपी बनी सबसे बड़ी पार्टी, जानिए पूरा लेखा-जोखा took from Puri Dunia | पूरी दुनिया.

Leave a Comment