भारत

पाक के सिख युवकों को भारत के खिलाफ भड़का रहा ISI: गृह मंत्रालय

पाक के सिख युवकों को भारत के खिलाफ भड़का रहा ISI: गृह मंत्रालय

 पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। आए दिन जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर घुसपैठ की कोशिश की जा रही है। इसी बीच पाकिस्तान की एक और घिनौनी हरकत सामने आई है।खुफिया एजेंसी ISI सिख युवाओं को भारत में हमला करने के लिए ट्रेंड कर रही है। गृह मंत्रालय ने एक संसदीय पैनल में इसकी जानकारी दी। गृह मंत्रालय के अनुसार ISI के ठिकानों पर इन युवाओं को ट्रेंड किया जा रहा है ताकि वे भारत में आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे सकें। इसके साथ ही कनाडा और अन्य जगहों पर बसे हुए सिख युवाओं को भी भारत के खिलाफ भड़काया जा रहा है।

सोशल मीडिया का हो रहा गलत इस्तेमाल
गृह मंत्रालय के अफसरों ने भाजपा सांसद मुरली मनोहर जोशी की अध्यक्षता वाले संसदीय पैनल को बताया कि इंटरनेट और सोशल मीडिया का गलत तरीके से इस्तेमाल कर आतंकी संगठन युवाओं को भड़का रहे हैं, उन्हें और कट्टर बना रहे हैं। यह सरकार के लिए एक बड़ी चुनौती है। कमेटी की रिपोर्ट में कहा गया कि पाकिस्तानी आतंकवादी संगठनों के कमांडरों को आईएसआई के दबाव न केवल पंजाब में बल्कि देश के अन्य हिस्सों में भेजा जा रहा है। यूरोप, अमेरिका और कनाडा में स्थित सिख युवाओं को भारत के खिलाफ गुमराह और उकसाया जा रहा है।

पाक में सिख आतंकी संगठनों में बढ़ोत्तरी 
रिपोर्ट के अनुसार पिछले दिनों पाकिस्तान में सिख आतंकी संगठनों में बढ़ोत्तरी देखी गई है, फिर से सिख आतंकवाद को जीवित करने की कोशिशें की जा रही हैं। इन गतिविधियों पर केंद्र और राज्य की सुरक्षा एजेंसियां नजर रखे हुए हैं और जब भी जरूरत पड़ी वह उनका सामना करने के लिए तैयार हैं। कमिटी ने कहा कि युवाओं को कट्टर और जेहादी बनाने के लिए इंटरनेट और सोशल मीडिया का गलत तरीके के इस्तेमाल किया जा रहा है जो चिंता का विषय है।

सरकार के लिए एक बड़ी चुनौती 
गृह मंत्रालय ने संसदीय पैनल को बताया कि देश की एजेंसियां पाक के आतंकी संगठनों लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद समेत इंडियन मुजाहिदीन और सिमी पर नजर बनाए हुए हैं और जरूरत पड़ने पर कार्रवाई करेंगी। होम मिनिस्ट्री ने ये भी बताया कि लेफ्ट विंग समर्थित आतंकवाद से अभी भी देश के अंदर खतरा बना हुआ है।

Leave a Comment