महाराष्ट्र

महाराष्ट्र को सूखा घोषित करे सरकार – कांग्रेस

महाराष्ट्र को सूखा घोषित करे सरकार – कांग्रेस

आज से जनसंघर्ष यात्रा के तीसरे चरण की शुरूआत

मुंबई- कांग्रेस ने महाराष्ट्र में सूखे जैसी स्थिति नहीं बल्कि सूखा घोषित करने की मांग की है। कांग्रेस ने जलयुक्त शिवार योजना में बड़े पैमाने पर घोटाला होने का आरोप लगाया है।

पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि इस साल कम बारिश होने से राज्य में जलसंकट निर्माण हुआ है। राज्य के कई इलाकों में सूखे की स्थिती निर्माण हो गई है। खरीफ की फसल सिंचाई के आभाव में सूख गई है। रबी फसल की बुआई नहीं हो सकी है। जानवरों के लिए चारा नहीं है। पूरा महाराष्ट्र जलसंकट से जूझ रहा है। दूसरी ओर सरकार राज्य में सुखे जैसी स्थिती बताकर जनता को फंसा रही है। चव्हाण ने तत्काल राज्य में सूखा घोषित करने की मांग की है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि जलयुक्त शिवार योजना में करोड़ो रुपए का घोटाला हुआ है। योजना पर करोड़ों रुपए खर्च करने के बाद भी भूगर्भ जलस्तर में बड़ी गिरावट आई है। जलयुक्त शिवार योजना राज्य का सबसे बड़ा घोटाला है। चव्हाण ने बताया कि नाकारा सरकार के खिलाफ कांग्रेस ने राज्यव्यापी जनसंघर्ष य़ात्रा शुरू की है।

जनसंघर्ष यात्रा का तीसरा चरण और मराठवाडा में सूखा का जायजा लेने की शुरूआत बुधवार 24 अक्टूबर से तुलजापुर से होगी। सूखे से जूझ रहे किसानों से पार्टी के नेता संपर्क स्थापित करेंगे। इसके अलावा सरकार की नाकामियों, वादाखिलाफी और असफलताओं की जानकारी जनता को दी जाएगी।

संघर्षयात्रा के तीसरे चरण में पार्टी के राष्ट्रीय नेता मल्लिकार्जुन खर्गे, पूर्व केंद्रीय गृहमंत्री सुशीलकुमार शिंदे, विधानसभा में विपक्ष के नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल, पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण समेत अन्य बड़े नेता शामिल होंगे।

Leave a Comment