महाराष्ट्र

स्वाइन फ्लू: अलर्ट पर महाराष्ट्र की स्वास्थ्य सेवाएं

स्वाइन फ्लू: अलर्ट पर महाराष्ट्र की स्वास्थ्य सेवाएं

मुंबई- मौसम बदलाव के कारण राज्य में स्वाइन फ्लू मरीजों की संख्या बढ़ रही है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. दीपक सावंत ने खासकर पुणे और पिंपरी-चिंचवड मनपा आयुक्तों को निजी अस्पतालों में की गई तैयारियों का जायजा लेने का निर्देश दिया है। साथ ही सभी सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं को अलर्ट कर दिया गया है।
जलवायु परिवर्तन के कारण राज्य में स्वाइन फ्लू के मरीज पाए गए हैं। खासकर पुणे और पिंपरी- चिंचवड और आसपास के इलाकों में मरीजों की संख्या अधिक है। अगर ठंड, खांसी और बुखार के लक्षण 24 घंटे से अधिक समय तक दिखाई देते हैं, तो स्वाइन फ्लू का इलाज तुरंत शुरू करने की सूचना संबंधितों को दी गई है। जनता से अपील की गई है कि वे न घबराएं और तुरंत डॉक्टरों से संपर्क करें। हाल में पाए गए स्वाइन फ्लू के मरीजों की पृष्ठभूमि पर स्वास्थ्य मंत्री ने मंगलवार को पुणे का दौरा किया। उन्होंने एक समीक्षा बैठक के दौरान स्वाइन फ्लू रोकथाम उपायों को लागू करने के निर्देश दिया।

राज्य और पुणे शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में स्वाइन फ्लू मामलों की संख्या अगस्त में बढ़ रही है। प्रत्येक स्वास्थ्य केंद्रों में उपलब्ध स्वाइन फ्लू की दवाईओं की समीक्षा की गई । स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि 2018 के लिए ट्रायवेलेंट टीका का उपयोग, एंटीवायरल दवाओं oseltamivir और zanamivir की उपलब्धता के बारे में खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग को सूचित किया जाना चाहिए। जून के अंत तक अधिक जोखिम वाले एक लाख 28 हजार लोगों को स्वाइन फ्लू टीकाकरण किया गया है। बैठक के बाद स्वास्थ्य मंत्री ने पुणे के नायडू अस्पताल और वाईसीएम अस्पताल जाकर मरीजों से मुलाकात कर उनका हालचाल जाना।

Leave a Comment