महाराष्ट्र

GRSE आंरभिक सार्वजनिक निर्गम 24 सितंबर को खुलेगा, बंद होने की तारीख 26 सितंबर

grse Initial Public Offer open on September 24 and close on September 26
grse Initial Public Offer open on September 24 and close on September 26

मुंबई । गार्डन रीच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स लिमिटेड (‘‘कंपनी‘‘) ने 24 सितंबर 2018 को अपना आरंभिक सार्वजनिक निर्गम लाने का प्रस्ताव रखा है। कंपनी पूंजी जुटाने के लिए प्रति इक्विटी शेयर कीमत (शेयर प्रीमियम सहित) (‘‘आॅफर‘‘) पर 10 रूपये सम मूल्य (‘‘इक्विटी शेयर‘‘) के इक्विटी शेयरों का निर्गम लेकर आ रही है। इसमें कंपनी के प्रवर्तक, भारत के माननीय राष्ट्रपति, जोकि रक्षा मंत्रालय, भारत सरकार (‘‘विक्रेता शेयरधारक‘‘) के तौर पर काम कर रहे हैं, द्वारा 29ए210ए760 इक्विटी शेयरों की आॅफर फाॅर सेल शामिल है।

इस निर्गम में योग्य कर्मचारियों द्वारा अभिदान के लिए 572ए760 इक्विटी शेयरों तक का आरक्षण शामिल है ( जैसा कि यहां परिभाषित है) (‘‘कर्मचारी आरक्षण हिस्सा‘‘)। कर्मचारी आरक्षण हिस्से को कम करने के बाद इस निर्गम को यहां से ‘‘नेट आॅफर‘‘ या ‘‘शुद्ध निर्गम‘‘ कहा जायेगा। निर्गम और शुद्ध निर्गम में कंपनी की निर्गम पश्चात चुकता इक्विटी पूंजी का 22.50 प्रतिशत और 25.00 प्रतिशत हिस्सा शामिल होगा। बिड/निर्गम बंद होने की तारीख 26 सितंबर 2018 है।

खुदरा व्यक्तिगत निवेशकों को निर्गम कीमत पर 5 रूपये प्रति इक्विटी शेयर की छूट दी जायेगी(‘‘खुदरा छूट‘‘)। वहीं, निर्गम कीमत पर 5 रूपये प्रति इक्विटी शेयर की छूट कर्मचारी आरक्षण हिस्से में योग्य कर्मचारी बिडिंग के लिए आॅफर की जायेगी (‘‘कर्मचारी छूट‘‘)।

इस निर्गम के लिए प्राइस बैंड 115 रूपये से 118 रूपये प्रति इक्विटी शेयर तय किया गया है। बिड्स न्यूनतम 120 इक्विटी शेयरों एवं उसके बाद 120 इक्विटी शेयरों के गुणक में लगाई जा सकती हैं।
इक्विटी शेयरों को बीएसई और एनएसई पर सूचीबद्ध होने का प्रस्ताव रखा गया है।
इस निर्गम के लिए बुक रनिंग लीड मैनेजर्स (‘‘बीआरएलएम्स‘‘) आइडीबीआइ कैपिटल मार्केट्स एंड सिक्युरिटीज लिमिटेड और यस सिक्युरिटीज (इंडिया) लिमिटेड हैं।

यह निर्गम संशोधित सिक्युरिटीज काॅन्ट्रैक्ट्स (रेगुलेशन) रूल्स, 1957 के नियम 19 (2)(बी) (‘‘एससीआरआर‘‘) के अनुसार लाया जा रहा है। यह आॅफर संशोधित भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (इश्यू आॅफ कैपिटल एंड डिस्क्लोजर्स रिक्वाॅयरमेंट्स) रेगुलेशंस, 2009, (‘‘सेबी आइसीडीआर रेगुलेशंस‘‘) के नियम 26 (1) के अनुसार, बुक बिल्डिंग प्रोसेस के माध्यम से लाया जा रहा है। इसके तहत शुद्ध निर्गम का 50 प्रतिशत आनुपातिक आधार पर क्वालीफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (‘‘क्यूआइबी पोर्शन‘‘) को आवंटन के लिए उपलब्ध होगा।

क्यूआइबी पोर्शन के 5 प्रतिशत आनुपातिक आधार पर सिर्फ म्यूचुअल फंडों को आवंटन के लिए उपलब्ध होगी। शेष शुद्ध क्यूआइबी हिस्सा आनुपातिक आधार पर आवंटन के लिए सभी क्यूआइबी बिडर्स जिसमें म्यूचुअल फंड शामिल हैं, के लिए उपलब्ध होगा। इसे निर्गम की कीमत पर या इससे अधिक दाम पर वैध बिड्स मिलना अनिवार्य हैं। हैं। यदि म्यूचुअल फंडों के लिए एग्रीगेट मांग शुद्ध क्यूआइबी हिस्से के 5 प्रतिशत से कम रहती है, तो शेष इक्विटी शेयर जोकि म्यूचुअल फंड हिस्से में आवंटन के लिए उपलब्ध हैं, को क्यूआइबी के आनुपातिक आवंटन के लिए शेष क्यूआइबी हिस्से में जोड़ दिया जायेगा।

यही नहीं, सेबी आइसीडीआर रेगुलेशंस के नियमों के अनुसार शुद्ध निर्गम का कम से कम 15 प्रतिशत हिस्सा आनुपातिक आधार पर आवंटन के लिए गैर संस्थागत निवेशकों के लिए, जबकि शुद्ध निर्गम का कम से कम 35 प्रतिशत हिस्सा खुदरा व्यक्तिगत निवेशकों के लिए उपलब्ध होगा। इन्हें निर्गम की कीमत पर या इससे अधिक दाम पर वैध बिड्स मिलना अनिवार्य हैं।

572ए760 इक्विटी शेयर कर्मचारी आरक्षण हिस्से में योग्य कर्मचारी बिडिंग के लिए आवंटन के लिए पेश किये जायेंगे, इसमें निवेशकों से निर्गम की कीमत पर या इससे अधिक दाम पर वैध बिड्स मिलने की शर्त रखी गई है। सभी बिडर्स एप्लीकेशन सपोर्टेड बाइ ब्लाॅक्ड अमाउंड (‘‘एएसबीए‘‘) प्रोसेस के माध्यम से आॅफर में भाग लेंगे। इसके लिये उन्हें अपने संबंधित खाते का विवरण उपलब्ध कराना होगा, जिसे सेल्फ सर्टिफाइड सिंडीकेट बैंक्स (‘‘एससीएसबीएस‘‘) द्वारा ब्लाॅक किया जायेगा।

Article GRSE आंरभिक सार्वजनिक निर्गम 24 सितंबर को खुलेगा, बंद होने की तारीख 26 सितंबर took from Sabguru News.

Leave a Comment