अन्य

44 और 45 डिग्री का तापमान—उमड़ता जनसैलाब—सरकार के प्रति जनता के भरपूर समर्थन और विश्वास का प्रतीक

1

रायपुर ————– मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि नौतपे की भीषण गर्मी में जब 44 और 45 डिग्री का तापमान हो, तब कोई घर से बाहर नहीं निकलने की हिम्मत नहीं करता।

ऐसे तपते हुए मौसम में भी विकास यात्रा की आम सभाओं में और स्वागत सभाओं में उमड़ता जनसैलाब सरकार के प्रति जनता के भरपूर समर्थन और विश्वास का प्रतीक बन गया है।

उन्होंने इसके लिए प्रदेश वासियों के प्रति आभार प्रकट किया। डॉ. सिंह आज दोपहर राजनांदगांव जिले के छुईखदान में आयोजित विकास यात्रा की विशाल आम सभा को सम्बोधित कर रहे थे।

उन्होंने इस अवसर पर लगभग 338 करोड़ रूपए की लागत के 95 कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इनमें लगभग 126 करोड़ रुपए की लागत से 21 कार्यों का लोकार्पण और 212 करोड़ रुपए की लागत से 74 कार्यों का शिलान्यास शामिल है।

मुख्यमंत्री ने आमसभा में 59 हजार 162 हितग्राहियों को लगभग 51 करोड़ रुपए की सामग्री और सहायता राशि के चेक के साथ ही 27 हजार 478 परिवारों को आबादी पट्टा का वितरण किया।

ज्ञातव्य है कि राजनांदगांव में हुई आम सभा में मुख्यमंत्री ने धान बोनस के रूप में खैरागढ़ विकासखण्ड के 10 हजार 149 किसानों को 11.39 करोड़ रुपए तथा छुईखदान विकासखण्ड के 12 हजार 503 किसानों को 15 करोड़ 09 लाख रुपए की राशि का ई-ट्रासंफर कर किसानों के खाते में भुगतान किया था।

पांच किसानों को छुई खदान की आमसभा में प्रतीकात्मक रूप से प्रमाण पत्र दिया गया। डॉ. रमन सिंह ने जनता को संबोधित करते हुए कहा – राजनांदगांव जिले का छुई खदान क्षेत्र विकास की दौड़ में पिछड़ा और उपेक्षित रह गया था अब यह क्षेत्र आज तेजी से विकास करते हुए अपने गौरव शाली दिनों की और बढ़ रहा है।

उन्होंने कहा कि छुई खदान में जनता की मांग पर कृषि महाविद्यालय की स्वीकृति और यहां के लोकसभा सांसद की पहल पर इस क्षेत्र को रेल मार्ग की स्वीकृति मिली है। आने वाले समय में जनता के आर्शीवाद से इस क्षेत्र का चार गुना विकास करेंगे।

उन्होंने कहा – खाद्यान्न सुरक्षा योजना से गरीबों को जो संतुष्टि मिली है, वह सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि है। किसी भूखे व्यक्ति को भोजन से जो संतुष्टि मिलती है उसका वर्णन नहीं किया जा सकता। उन्होंने इस संबंध में महाभारत के दृष्टांत का उल्लेख करते हुए कहा कि भूखे को भोजन कराना महायज्ञ के समान है। डॉ. सिंह ने कहा – छत्तीसगढ़ की सरकार गांव, गरीब और किसानों की सरकार है। विकास यात्रा में किसानों के लिए 1700 करोड़ रूपए का धान बोनस और फसल बीमा की राशि बांट रहे हैं। इस यात्रा में 30 हजार करोड़ से ज्यादा के कामों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया जा रहा है। इसके अलावा 700 करोड़ रुपये के तेंदूपत्ता बोनस की राशि भी वितरित की जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य ) में गांव-गांव में बिजली कनेक्शन दिया जा रहा है। आने वाले 4 महीने के अंदर छत्तीसगढ़ के शत प्रतिशत लोगों के घरों में बिजली पहुंच जाएगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि गांव गांव में इंटरनेट कनेक्टिविटी देने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार की एक बड़ी योजना संचार क्रांति योजना शुरू की है। इस योजना में 50 लाख परिवारों को स्मार्ट फोन वितरित किया जाएगा। इस स्मार्टफोन जिसमें ऐसा ऐप होगा जिससे लोग अलग-अलग योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। उन्होंने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की आयुष्मान भारत योजना का उल्लेख करते हुए कहा कि देश दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सुरक्षा योजना में गरीबों को 5 लाख रूपए तक के इलाज की सुविधा मिलेगी। गरीब लोगों के घर किसी को अगर कैंसर, किडनी, हार्ट की बीमारी हो जाए तो वे इस योजना से अपना इलाज करा सकेंगे।
डॉ. सिंह ने जिन कार्यो का लोकार्पण किया, उनमें लगभग 59 करोड़ रूपए की लागत से निर्मित प्रधानपाठ बैराज, लगभग 39 करोड़ 10 लाख रूपए की लागत से कराए गये पिपरिया जलाशय की नहर लाइनिंग कार्य, लगभग 13 करोड़ 70 लाख रूपए की लागत से राजनांदगांव-कवर्धा-पोड़ी मार्ग में कर्रा नाले पर बने उच्चस्तरीय पुल, लगभग 3 करोड़ 96 लाख रुपए में निर्मित कोर्रा से कुटेलीखुर्द होते हुए पदमावतीपुर सड़क तथा 2 करोड़ 83 लाख रुपए से निर्मित पथर्रा-कालेगोंदी सड़क के कार्य शामिल हैं। मुख्यमंत्री ने जिन कार्यो का भूमिपूजन और शिलान्यास किया, उनमें लगभग 31 करोड़ 16 लाख रूपए की लागत से बनने वाली खैरागढ़ बायपास मार्ग, 25 करोड़ 95 लाख रुपए की लागत से छुईखदान बकरकट्टा मार्ग पर निर्मित उच्चस्तरीय पुल, दाऊचौरा खैरागढ़ ढारा तक मार्ग नवीनीकरण कार्य और लगभग 10 करोड़ 62 लाख रुपए की लागत से निर्मित होने वाले टींगामाली-लक्षना-कटेमा सड़क का कार्य शामिल है।
मुख्यमंत्री ने आम सभा में प्रधानमंत्री आवास योजना के 3763 हितग्राहियों को आवास स्वीकृति पत्र, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के 600 महिलाओं को रसोई गैस कनेक्शन, श्रम विभाग की योजनाओं के अंतर्गत श्रमिकों को 2500 साइकिल, 1500 औजार एवं 1500 सुरक्षा उपकरण तथा अन्य सामग्री, श्रमिक परिवारों के 5550 बच्चों को नौनिहाल छात्रवृति योजना के अंतर्गत छात्रवृति, पाँच हितग्राहियों को ई-रिक्शा, राष्ट्रीय और मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के अंतर्गत 13 हजार 478 परिवारों को स्मार्ट कार्ड और बिहान (राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन) के महिला स्व-सहायता समूहों को 53 लाख रुपए की ऋण राशि के चेक वितरित किए। आमसभा में लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत, लोकसभा सांसद श्री अभिषेक सिंह, औषधीय पादप बोर्ड के अध्यक्ष श्री रामप्रताप सिंह, छत्तीसगढ़ भंडार गृह निगम के अध्यक्ष श्री नीलू शर्मा और जनपद पंचायत खैरागढ़ के अध्यक्ष श्री विक्रांत सिंह सहित अनेक जनप्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

Leave a Comment