अन्य

बिलासपुर : बैंक कर्ज से परेशान किसान ने ससुराल में फांसी लगाई

बिलासपुर : बैंक कर्ज से परेशान किसान ने ससुराल में फांसी लगाई

पेंड्रा, बिलासपुर । गौरेला क्षेत्र के ग्राम पिपरिया निवासी किसान ने कर्ज से परेशान होकर गुरुवार की शाम पेंड्रा क्षेत्र के ग्राम कुदरी स्थित अपने ससुराल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक की पत्नी समेत परिजन का आरोप है कि दो साल से क्षेत्र में अकाल पड़ने के कारण वह बैंक का कर्ज नहीं चुका पा रहा था और मानसिक तनाव में था। इसी के चलते उसने यह कदम उठाया है।

पेंड्रा पुलिस के अनुसार गौरेला क्षेत्र के ग्राम पिपरिया निवासी सुरेश सिंह मरावी पिता निरंजन सिंह मरावी (40) पेशे से किसान था। उसने जिला सहकारी केंद्रीय बैंक की लरकेनी शाखा से खेती-किसानी के लिए डेढ़ लाख रुपये का कर्ज लिया था। कर्ज की राशि जमा नहीं करने पर उसे बैंक से नोटिस मिला था।

सुरेश सिंह को अपने दो भाइयों व चार बेटियों की शादी भी करनी थी। सूखा पड़ने से फसल चौपट हो गई। इसके चलते आर्थिक तंगी के कारण वह मानिसक रूप से परेशान रहता था। गुरुवार को वह अपने ससुराल ग्राम कुदरी आया था। उसकी पत्नी व बच्चे भी यहीं थे।

शाम करीब छह बजे वह कमरे का दरवाजा बंद कर फांसी के फंदे पर झूल गया। इस बीच परिजन को इसकी भनक नहीं लगी। जब तक उन्होंने देखा, तब उसकी लाश फंदे पर लटक रही थी। इस घटना की जानकारी आसपास के लोगों के साथ ही थाने में दी गई। पुलिस मामले में मर्ग कायम कर जांच कर रही है।

मौके पर पहुंची पुलिस, आज होगा पोस्टमार्टम

घटना की सूचना मिलते ही पेंड्रा पुलिस मौके पर पहुंच गई। इस दौरान परिजन ने रो-रोकर उसके कर्ज से परेशान होने की जानकारी दी। पुलिस ने शव का पंचनामा कर लिया है। लेकिन, रात होने के कारण पोस्टमार्टम नहीं कराया जा सका।

सूखा राहत मिला न मुआवजा, पहले भी की थी कोशिश

मृतक के भाई मोहन मरावी ने बताया कि सुरेश ने पूर्व में भी आत्महत्या करने की कोशिश की थी। लेकिन, उस समय घरवालों को इसकी भनक लग गई और उसे बचा लिया गया था। सूखा राहत व मुआवजा तक उसे नहीं मिला था। वहीं बैंक का कर्ज चुकाने की चिंता अलग थी।

प्रारंभिक जांच में परिजन ने कर्ज से परेशान होकर उसके आत्महत्या करने की बात कही है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। शुक्रवार को शव के पोस्टमार्टम के बाद जानकारी ली जाएगी।

Leave a Comment