अन्य

ड्रग्स के जरिए युवाओं में HIV की एंट्री

ड्रग्स के जरिए युवाओं में HIV की एंट्री

Chandigarh/Alive News : पंजाब के बाद नशा अब सिटी ब्यूटीफुल चंडीगढ़ में पैर फैला रहा है। यहां के युवा असुरक्षित यौन संबंध नहीं बल्कि ड्रग्स के कारण एचआइवी के शिकार हो रहे हैं। यह खुलासा चंडीगढ़ स्टेट एड्स कंट्रोल सोसाइटी की रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट के अनुसार चंडीगढ़ में एचआइवी फैल रहा है।

एचआइवी ग्रस्त मामलों में 61 फीसद पुरुष और 39 फीसदी महिलाएं हैं। उनमें से 60 फीसद को एचआइवी इंफेक्शन एक ही सीरिंज से नशा लेने के कारण होता है। इस जानलेवा रोग के पीडि़तों की उम्र 25 से 40 साल के बीच ही है। ड्रग्स के कारण एचआइवी मामले बढऩे पर स्वास्थ्य विभाग ने मंथन शुरू कर दिया है। हालांकि, ताजा रिपोर्ट के अनुसार चंडीगढ़ में एचआईवी पॉजिटिव पाए जाने वाले मरीजों की संख्या में गिरावट आई है।

यहां 2008 में एचआईवी ग्रस्त मरीजों का फीसद 0.27 से घटकर 2018 में 0.7 फीसद तक आ गया है। स्टेट एड्स कंट्रोल सोसाइटी की प्रोजेक्ट डायरेक्टर चंडीगढ़ डॉ. विनीता गुप्ता के अनुसार बीते सालों में एचआइवी मामलों में चंडीगढ़ का ग्राफ काफी बेहतर हुआ है। इस दिशा में केंद्र सरकार के प्रोजेक्ट्स के अलावा चंडीगढ़ स्टेट एड्स कंट्रोल सोसाइटी अपने स्तर पर भी काफी प्रोग्राम कर रही है। एचआइवी मामलों में ड्रग्स बड़ा कारण है।

Leave a Comment