अन्य

पर्याप्त जलापूर्ति सुनिश्चित करने के दिए निर्देश

1

शिमला ————– मुख्यमंत्री श्री जय राम ठाकुर की अध्यक्षता में राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ शिमला शहर के लिए जलापूर्ति की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। अधिकारियों ने उन्हें जलापूर्ति की स्थिति तथा वितरण के बारे में अवगत करवाया।

बैठक में अवगत करवाया गया कि आज नगर निगम शिमला को 21.75 एमएलडी पानी प्राप्त हुआ, जिसका वितरण गत दिवस जारी की गई समय-सारिणी के अनुसार क्षेत्रवार भराड़ी, रूल्दूभट्टा, कैथू, अनाडेल, समरहिल, टुटू, मंझयाट, कच्चीघाटी, बालूगंज, टूटीकंडी, कनलोग, नाभा तथा फागली में किया गया। शिमला नगर निगम के विभिन्न क्षेत्रों में आज 27 टैंकरों के माध्यम से 63 स्थानों पर 2.25 लाख लीटर पानी का वितरण किया गया।

मुख्यमंत्री को अवगत करवाया गया कि वीरवार को पानी का वितरण कृष्णानगर, रामबाजार, लोअर बाजार, जाखू, बैनमोर, ईंजनघर, संजौली चौक, ढली, मशोबरा, भट्टाकुफर, शांति बिहार, मलयाणा और सांगटी में किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने प्रदेशभर की विभिन्न जलापूर्ति योजनाओं की स्थिति की भी समीक्षा की। अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया कि प्रदेशभर की 9590 जलापूर्ति योजनाओं में से 350 योजनाएं पूरी तरह से प्रभावित हुई हैं जबकि 1131 योजनाएं आंशिक रूप से प्रभावित हुई हैं। बैठक में बताया गया कि शिमला शहर में हैंडपम्प स्थापित करने के लिए 11 स्थानों को चिन्हित किया गया है, जिनमें से एक हैंडपम्प स्थापित करने का कार्य आरम्भ कर दिया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार शिमला के लोगों को जलापूर्ति प्रदान करने के लिए गंभीर है। उन्होंने सिंचाई एव जन स्वास्थ्य विभाग को जलापूर्ति सुनिश्चित बनाने के लिए उपयुक्त कदम उठाने के निर्देश दिए।

सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने कहा कि उन्होंने आज गुम्मा पम्पिग स्टेशन का दौरा किया तथा स्थानीय लोगों के साथ बैठक कर तीन एमएलडी अतिरिक्त पानी गुम्मा पंपिग स्टेशन को छोड़ने के लिए उनसे सहमति बनाई।

उन्होंने कहा कि अब शिमला शहर के लिए प्रतिदिन लगभग 14 एमएलडी पानी मिलेगा, जो पहले केवल 11 एमएलडी प्राप्त हो रहा था। इससे शिमला में और अधिक क्षेत्रों को पानी की आपूर्ति हो सकेगी।

बैठक में मुख्य सचिव विनीत चौधरी, अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ. श्रीकांत बाल्दी, सचिव आईपीएच देवेश कुमार, शिमला के उपायुक्त अमित कश्यप, नगर निगम शिमला के आयुक्त रोहित जम्वाल, निदेशक सूचना एवं जन सम्पर्क विभाग अनुपम कश्यप, पुलिस अधीक्षक ओमापति जम्वाल सहित सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

Leave a Comment