अन्य

राजस्थान: कांग्रेस पार्षद को चार करोड़ रुपए देने जा रहा युवक पकड़ाया, टेरर फंडिंग या हवाला कारोबार का शक

राजस्थान: कांग्रेस पार्षद को चार करोड़ रुपए देने जा रहा युवक पकड़ाया, टेरर फंडिंग या हवाला कारोबार का शक

जयपुर। आयकर विभाग ने पुलिस के साथ एक ज्वाइंट ऑपरेशन में दिल्ली से जयपुर आ रहे एक युवक के पास से चार करोड़ रुपए बरामद किए हैं। उसे ये रुपए भीलवाड़ा के एक नगर परिषद पार्षद के यहां पहुंचाने थे। एटीएस के आईजी बीजू जॉर्ज जोजफ ने फिलहाल टेरर फंडिंग की बात से इंकार किया है। उनका कहना है कि मामले में हर पहलू की पड़ताल की जा रही है। इसके लिए पार्षद और अन्य लोगों के घर पर सर्च जारी है। चार करोड़ की ये रकम हवाला की हो सकती है।

1) दिल्ली से अहमदाबाद बस से पकड़ा गया
– आयकर विभाग के अनुसार सूचना मिली थी दिल्ली से दिल्ली से अहमदाबाद जा रही श्रीनाथ ट्रेवल्स की बस में बनवारी नाम का युनक अवैध रूप से चार करोड़ रुपए लेकर जा रहा है। इसके बाद हरकत में आई आयकर विभाग की टीम ने पुलिस की मदद से युवक को मनोहरपुर टोल नाके पर बस से उतार लिया। जब उसके सामान की तलाशी ली गई तो चार पैकेट में चार करोड़ रुपए (दो हजार की गड्डिया) रखे हुए थे।

2) कांग्रेस पार्षद को देना था पैसा

– आयकर विभाग से मिली जानकारी के अनुसार बनवारी को ये चार कोड़ रुपए भीलवाड़ा के एक नगर परिषद पार्षद फैजल राउफ को देना था। बनवारी अपने आपको पार्षद का कर्मचारी बताया है। पूछताछ में बनवारी ने यह रकम फैजल की होना बताया। जिसके बाद इनकम टैक्स और एटीएस की टीमें भीलवाड़ा स्थित फैजल के मकान पर भी सर्च कर रही हैं।

3) ऐसे होता चलता है करोबार

– एटीएस की प्रारंभिक पूछताछ में बनवारी ने बताया कि वह फैजल राउफ और दीपक समतानी नाम के व्यक्ति के लिए काम करता है। हवाला कारोबारियों का एक आॅफिस दिल्ली में चांदनी चौक होना बताया जा रहा है, जहां से बनवारी चार करोड़ की रकम लेकर ​ट्रेवल्स बस से भीलवाड़ा जा रहा था। इसके लिए हवाला कारोबारी एक सिग्नेचर वाली पर्ची बिचौलिए को देते है। जबकि वैसी वही हसिग्नेचर वाली पर्ची की फोटो को व्हाट्सएप के जरिए उस व्यक्ति को भेजी जाती है। जिसे रकम भेजी गई है। बिचौलिए के रकम लेकर पहुंचने पर वह व्यक्ति दोनों पर्चियों का मिलान करता है। ​इसके बाद ही रकम प्राप्त करता है।

Leave a Comment