अन्य

कहां से कहां पहुंच गई कांग्रेस, छत्तीसगढ़ में रोड शो के लिए नेता ही नहीं मिल रहे – रमन सिंह

कहां से कहां पहुंच गई कांग्रेस, छत्तीसगढ़ में रोड शो के लिए नेता ही नहीं मिल रहे – रमन सिंह

कोंडागांव। विकास यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री के निशाने पर जनसमुदाय के करीब जाने के साथ ही कांग्रेस भी निशाने पर है। मुख्यमंत्री ने एक बार फिर कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा है। सीएम का कहना है कि कांग्रेस की प्रदेश में स्थिति कहां से कहां पहुंच गई है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि छत्तीसीगढ़ में रोड शो के लिए कांग्रेस को नेता नहीं मिल रहे हैं। सीएम सोमवार को कोंडागांव में मीडिया से बात कर रहे थे। सीएम की विकास यात्रा सोमवार को नारायणपुर, केशपुर और कांकेर पहुंचेगी। कांकेर में उनका रोड शो होगा।

– कोंडागांव में सीएम ने कहा कि कांग्रेस को रोड शो के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को बुलाने की नौबत आ गई है। न तो पीएल पुनिया और न ही भूपेश बघेल को जनता स्वीकार कर रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी विकास यात्रा का विरोध कर रहे हैं। यह उनकी हताशा है। कांग्रेस नेता फेसबुक, ट्वीटर जैसे सोशल मीडिया से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं।

– कांग्रेस विधायक कवासी लखमा के ताड़मेटला, जगरगुंडा में विकास यात्रा को चुनौती पर सीएम ने कहा कि बस्तर में मेरी विकास यात्रा खत्म नहीं हुई है। अभी कई चरण में मैं बार-बार बस्तर आता रहूंगा। कवासी को यदि लगता है मुझे बस्तर में कहीं जाना है, तो इसकी सूची बनाकर दे दें। उन्होंने कहा कि जैसे जैसे विकास यात्रा आगे बढ़ रही है, वैसे-वैसे सबकी स्थिति बिगड़ रही है।

गादीरास में थी अभूतपूर्व सभा
– मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा कि सुकमा के गादीरास में जिस तरह से सभा हुई, वैसी अभूतपूर्व सभा मैंने पहले नहीं देखी। उन्होंने कहा कि कोंडागांव में रोड शो देखकर लगा कि कभी दीवाली मनाई जा रही है, तो कभी कोई और पर्व। उन्होंने कहा कि मुझे लगा कि कोंडागांव को नया जिला बनाए जाने के बाद अब तक उसकी प्रतिक्रिया लोगों के दिलों में बाकी है। कोई छलावा नहीं है।

– सीएम ने कहा कि आदिवासी कल्याण के क्षेत्र में अभूतपूर्व काम हुए हैं। यहां कुपोषण में गिरावट आई है। उन्होंने कहा कि लोगों की आंखों में चमक दिखती है, उत्साह दिखता है। समाज के सभी वर्गों ने इस यात्रा को अपनी यात्रा माना है।

वरिष्ठ पत्रकार के निधन पर जताया शोर

-इससे पहले सीएम रमन सिंह ने वरिष्ठ पत्रकार गोविंदलाल वोरा के निधन पर शोक जताया। सीएम ने कहा कि मैंने कभी गोविंदलाल वोरा को आक्रोश में नहीं देखा। उनके निधन की सूचना रात में ही उनको मिल गई थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे छत्तीसगढ़वासियों की ओर से गोविंदलाल वोरा के निधन पर गहरी संवेदना प्रकट करते हैं। इस दौरान दो मिनट का मौन भी रखा गया।

-अविभाजित मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा के छोटे भाई गोविंद लाल वोरा वरिष्ठ पत्रकार थे। वो रायपुर में प्रतिष्ठित समाचार पत्रों के संपादक रहे। सीएम ने कहा कि गोविंदलाल वोरा छत्तीसगढ़के वरिष्ठतम पत्रकारों में से एक थे। उन्होंने लगभग छह दशकों तक पत्रकारिता के माध्यम से राज्य और देश को अपनी मूल्यवान सेवाएं दीं।

– उनका निधन छत्तीसगढ़ की पत्रकारिता के लिए एक अपूरणीय क्षति है। डॉ. रमन सिंह ने स्वर्गीय गोविन्दलाल वोरा के शोक सन्तप्त परिवार के प्रति संवेदना प्रकट की है और दिवंगत आत्मा की शान्ति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है। गोविंदलाल वोरा का अंतिम संस्कार रायपुर स्थित मारवाड़ी श्मशान घाट में किया सोमवार को किया जाएगा।

विकास यात्रा के अगले पड़ाव में नारायणपुर पहुंचे सीएम रमन सिंह

– रमन सिंह सरकार की विकास यात्रा के तीसरे दिन नारायपुर पड़ाव बना है। सीएम कोंडागांव से करीब 72 किमी का सफर हेलीकॉप्टर से तय कर नारायणपुर पहुंच गए हैं। यहां पर वो आमसभा करेंगे। इसके बाद लंच करके हेलीकॉप्टर से 124 किमी दूर केशकाल विधान सभा में पहुंचेंगे जहां फरसगांव में 2:00 बजे से 2:30 बजे से स्वागत सभा होगी। यहां से रथ से 11 किमी दूर केशकाल में 2:45 से 3:15 तक स्वागत सभा होगी। इसके बाद हेलीकॉप्टर से 30 किमी दूर कांकेर विधानसभा पहुंचेंगे जहां जहां आम सभा, रोड शो और रात्रि विश्राम होगा।

Leave a Comment