राजस्थान

राजस्थान में बन रही है भगवान शिव की विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा – तोड़ देगी स्टैचू ऑफ यूनिटी का रिकॉर्ड

img

जयपुर। गुजरात में नर्मदा नदी के पट पर सरदार वल्लभ भाई पटेल की विशाल प्रतिमा के अनावरण के बाद अब राजस्थान के नाथद्वारा में भगवान शिव की 351 फुट ऊंची प्रतिमा बनने जा रही है। स्टैचू ऑफ यूनिटी के बाद देश में यह दूसरे नंबर की सबसे ऊंची प्रतिमा होगी। यह दुनिया में अपनी तरह की सबसे ऊंची शिव प्रतिमा होगी। इसके अगले वर्ष मार्च तक बन जाने की संभावना है।

उदयपुर से 50 किलोमीटर की दूरी पर श्रीनाथद्वारा के गणेश टेकरी में सीमेंट कंकरीट से बनी विश्व की सबसे ऊंची शिव प्रतिमा का 85 प्रतिशत निर्माण कार्य पूरा कर लिया गया है। इस परियोजना के प्रभारी राजेश मेहता ने बताया कि 351 फीट ऊंची सीमेंट कंकरीट से निर्मित शिव प्रतिमा दुनिया की चौथे नंबर की और भारत में पटेल की प्रतिमा के बाद दूसरे नंबर की सबसे ऊंची प्रतिमा होगी।

‘मिराज ग्रुप’ के इस ड्रीम प्रॉजेक्ट का लगभग 85 प्रतिशत काम पूरा कर लिया गया है और मार्च 2019 तक निर्माण कार्य पूरा होने की संभावना है। 351 फुट की विशालकाय, सीमेंट कंकरीट की शिव प्रतिमा का निर्माण उदयपुर से 50 किलोमीटर की दूरी पर उदयपुर-जयपुर राजमार्ग पर श्रीनाथद्वारा के पास गणेश टेकरी में 16 एकड़ क्षेत्र की पहाड़ी पर किया जा रहा है।

पिछले चार वर्षों से चल रहे इस निर्माण में सीमेंट के लगभग तीन लाख बोरे, 2500 टन सरिया इस्तेमाल हो चुका है और 750 कारीगर और मजदूर रोजाना काम कर रहे हैं। प्रतिमा में भगवान शिव ध्यान और आराम की मुद्रा में हैं। इस प्रतिमा में पर्यटकों की सुविधा के लिए चार लिफ्ट और तीन सीढ़ियों का प्रावधान रखा गया है।

पयर्टक 280 फुट की ऊंचाई तक जा सकेंगे। प्रतिमा को 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित कांकरोली फ्लाइओवर से देखा जा सकता है। इतनी ही दूरी से रात में भी प्रतिमा को स्पष्ट रूप से देखने के लिए इसमें विशेष लाइट लगाई जा रही है, जिसे अमेरिका से मंगाया गया है।

Article राजस्थान में बन रही है भगवान शिव की विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा – तोड़ देगी स्टैचू ऑफ यूनिटी का रिकॉर्ड took from India’s Fastest Hindi News portal.

Leave a Comment