उत्तरप्रदेश

कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण के दिन एक नया इतिहास रचने को तैयार बुआ और बबुआ

अखिलेश यादव

लखनऊ। कर्नाटक चुनाव का असर यूपी की राजनीति में भी नजर आने लगा है। विपक्ष ने बीजेपी के खिलाफ एक किलाबंदी शुरू कर दी है। जेडीएस नेता एचडी कुमारस्वामी बुधवार को कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। इस शपथग्रहण समारोह में वर्ष 2019 लोकसभा चुनावों का आगाज नजर आने वाला है। जी हाँ, जहां इस मंच पर कांग्रेस और जेडीएस का एक नया गठबंधन देखने को मिलेगा वहीँ बसपा सुप्रीमों मायावती औए समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव पहली बार एक मंच पर नजर आयेंगे।

पूर्व सीएम अखिलेश और मायावती ने कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण में शामिल होने की पुष्टि की है। यानि तय है कि दोनों पहली बार एक साथ एक मंच पर नजर आयेंगे। आपको बता दें कि मार्च में गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव में गठबंधन करने वाली दोनों पार्टियों ने राज्यसभा चुनाव साथ में लड़ा था।

लेकिन उस वक़्त दोनों ने अलग अलग प्रचार किया था, एक साथ मंच साझा नहीं किया था। हालाँकि उस वक़्त दोनों ने ऐलान कर दिया था कि वर्ष 2019 का चुनाव दोनों एक साथ लड़ेंगे। गोरखपुर-फूलपुर उपचुनाव बीजेपी को मात देने के बाद अखिलेश ने मायावती की जमकर तारीफ की थी। जीत के बाद अखिलेश यादव खुद मायावती को मुबारक बाद देने उनके घर पहुंचे थे।

आपको बता दें कि कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में विपक्षी पार्टियों के कई नेता शामिल होंगे। आम आदमी पार्टी अध्यक्ष और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी न्योता दिया गया है। इनके अलावा राजद के तेजस्वी यादव, कमल हासन, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू, डीएमके के एमके स्टालिन, तेलंगाना सीएम चंद्रशेखर राव, शामिल हो सकते हैं।

वहीँ मंत्रिमंडल के विस्तार के लिए आज कुमारस्वामी राहुल और सोनिया गांधी से मिलने दिल्ली पहुंचे हैं। उन्होंने राहुल गांधी और सोनिया गांधी से मुलाक़ात की। इससे पहले उन्होंने मायावती से मुलाकात भी की। बसपा के साथ मिलकर जेडीएस ने चुनाव लड़ा था जिसमे बसपा ने एक सीट पर कामयाबी हासिल कर ली थी।

Article कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण के दिन एक नया इतिहास रचने को तैयार बुआ और बबुआ took from Puri Dunia | पूरी दुनिया.

Leave a Comment