उत्तरप्रदेश

डबल डेकर बस से वीभत्स सड़क हादसा – 17 की दर्दनाक मौत– संतप्त मुख्यमंत्री

Capture

मैनपुरी/ फिरोजाबाद (विकास पालीवाल)——- जयपुर से कन्नौज के गुरसहायगंज जा रही डबल डेकर बस सुबह करीब पौने पांच बजे दन्नाहार थाना क्षेत्र के कीरतपुर गांव के पास सड़क हादसे का शिकार हो गई। इस हादसे में 16 लोगों की मौत हो गई, जबकि 24 यात्री गंभीर रूप से घायल हैं। हादसे के बाद शवों और घायलों को मैनपुरी के जिला अस्पताल पहुंचाया जा चुका है।

मिली जानकारी के अनुसार यूपी 76 के 7275 नंबर की मान ट्रेवल्स की एक निजी बस जयपुर से दैनिक यात्रियों को लेकर रात 10 बजे जयपुर से चली थी। उसे कन्नौज के गुरसहायगंज जाना था। करीब 80 यात्रियों से भरी बस उस समय डिवाइडर से टकराकर पलट गई, जब चालक को नींद झपकी आई। थाना दन्नाहार क्षेत्र के पास स्थित गांव कीरतपुर पर ये हादसा हुआ। आसपास के लोगों ने तुरंत थाना पुलिस को सूचना देकर बचाव कार्य शुरू कराया। इसके बाद कई थानों का फोर्स और करीब 12 एंबुलेंस मौके पर पहुंचकर शवों और घायलों को जिला अस्पताल लेकर पहुंचीं। वहां घायलों का इलाज जारी किया गया ।

इधर कीरतपुर हादसे की जानकारी पाकर कमिश्नर आगरा के राममोहन राव जिला अस्पताल पहुंचे। जिला अधिकारी प्रदीप कुमार के साथ उन्होंने विभिन्न वार्डों में भर्ती मरीजों से घटना की जानकारी ली। उन्होंने सीएमएस डॉक्टर आर के सागर को निर्देश दिया कि किसी भी मरीज को बाहर से दवाइयां लेनी न पड़े। सभी मरीजों का उपचार बेहतर ढ़ंग से दिया जाय।

उन्होंने डीएम को निर्देश दिया कि जब तक सभी घायलों को उपचार ठीक से नहीं मिल जाता, तब तक एसडीएम सदर की ड्यूटी इमरजेंसी में लगा दी जाए। कमिश्नर ने पोस्टमार्टम हाउस जाकर भी परिजनों से घटना की जानकारी जुटाई। जिले के प्रभारी मंत्री गिरीश चन्द्र, भाजपा विधायक राम नरेश अग्रिहोत्री, सपा विधायक राजू यादव व अन्य भाजपा नेता अस्पताल पहुंचे। नेताओं ने घायलों के परिजनों से जानकारी ली।

डीएम, एसपी भी अन्य अधिकारियों के साथ अस्पताल पहुंचे हैं। एक यात्री ने बताया कि करीब चार-पांच मिनट तक बस लहराती रही। जब तक कोई कुछ समझ पाता, तब तक बस पलट गई। यात्री का कहना है कि सबसे बड़ी गलती बस चालक की है। लापरवाही से बस चलाने के कारण इतनी बड़ी दुर्घटना हो गई। वहीँ शाम 3 बजे सपा संरक्षक पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव भी दुर्घटना की सूचना पाकर मैनपुरी पहुंचे तथा पीड़ित लोगों के परिवारीजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना दी।

मृतकों की सूची-
1-डिंपी (25) पत्नी अजय सिंह निवासी भरतपुर राजस्थान
2- मो. आजाद (27) पुत्र सर्फुद्दीन निवासी ओशोर खटिया, कन्नौज
3- शाहरुख (25) पुत्र कुतुबुद्दीन निवासी बाबनझाला, मुजफ्फरपुर, बिल्हौर, कानपुर
4- भुल्ली (23) पुत्र जमील निवासी ककुअन, कन्नौज
5- ज्ञानेंद्र (24) सुम्मेर सिंह निवासी पालपुर छिबरामऊ, कन्नौज
6- प्रदीप (18) पुत्र रामनाथ सिंह निवासी पालपुर, छिबरामऊ, कन्नौज
7- नंदन (22) पुत्र वीरपाल पालपुर, छिबरामऊ आदि शामिल हैं ।

हादसे में घायलों की सूची-
1- मुकुल (22 साल)
2- चरन सिंह (58 साल) पुत्र नत्थूलाल निवासी जेल चौराहा, कोतवाली मैनपुरी
3- मुन्नी देवी पत्नी राम भक्त निवासी बोरखोलिया, मीरापुर फर्रुखाबाद
4- नंदन (15) पुत्र अज्ञात, निवासी अज्ञात
5- रिजवान (30) पुत्र रफीक निवासी हीलपुर, कानपुर
6- मुकुल (22) पुत्र विजय कुमार निवासी फतेहगढ़, फर्रुखाबाद
7- आदिल (18) पुत्र मुन्ने खां निवासी गुरसहायगंज, कन्नौज
8- कुंदन ( 19) पुत्र हरिकिशन निवासी गुरसहायगंज, कन्नौज
9- हरिकिशन (37) पुत्र लालाराम निवासी गुरसहायगंज, कन्नौज
10- सुनीता (30) पत्नी हरिकिशन निवासी गुरसहायगंज, कन्नौज
11- रचना मिश्रा (30) पत्नी करन मिश्रा निवासी खटराना, फर्रुखाबाद
12- तजीर (25) पुत्र फहीम निवासी खलोकपुरा, फर्रुखाबाद
13- मोहम्मद हसन (27) पुत्र साजुद्दीन निवासी गुरसहायगंज, कन्नौज
14- रघुराज ( 35) पुत्र वीर निवासी मंडी समिति, आगरा
15- अफरोज (50) निवासी तालगांव, कन्नौज आदि शामिल हैं ।

क्षमता से अधिक थे यात्री

बस में क्षमता से अधिक यात्री थे। सीट से अधिक यात्री बैठे हुए थे। प्राइवेट बसें जयपुर से चलती हैं तो अधिक से अधिक सवारियां बैठाती हैं। फिर इन्हें जल्दी पहुंचने की होती है, ताकि आगे की बुकिंग कर सकें।
ईद मनाने के लिए घर आ रहे थे

मैनपुरी में हुए हादसे में मारे गए अकील पुत्र फारुख निवासी याकूब नगर, कन्नौज, आजाद (30) पुत्र सर्फुद्दीन निवासी औसेर ठठिया, जिला कन्नौज और सारुन पुत्र सर्फुद्दीन निवासी बावन झाला, बिल्हौर जिला कानपुर जयपुर में जरदोजी के कारीगर थे। बताया गया है कि ईद मनाने के लिए वे घर पहुंचने के लिए डबल डेकर में सवार हुए थे। घायलों ने बताया कि बस में सवारियां अधिक थीं। लेकिन, घर पहुंचने की जल्दी में फिर भी उसमें सवार हो गए।

डबल डेकर बस रात पौने नौ बजे जयपुर से फर्रुखाबाद के लिए रवाना हुई थी। बस में इतने अधिक लोग थे कि कई सवारियां बस की छतों पर सफर कर रही थीं। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे से बस सुबह छह बजे के आसपास इटावा मार्ग की ओर मुड़़ गई। करहल के पास अचानक संतुलन बिगड़ने से बस डिवाइडर से टकराकर पलट गई। बस के पलटते ही छत पर बैठी सवारियां एक के ऊपर एक आकर गिर पड़ीं। सड़क पर क्षतविक्षत शव पड़े थे, जिन्हें देखकर लोगों के रौंगटे खड़े हो गए।

आर्थिक सहायता की घोषणा———- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मैनपुरी में हुई बस दुर्घटना में यात्रियों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने दुर्घटना में मृतकों के आश्रितों को 2-2 लाख रुपये तथा गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है।

उन्होंने घायलों का समुचित इलाज कराने के भी निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने दुर्घटना में दिवंगत यात्रियों की आत्मा की शांति की कामना करते हुए उनके शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना भी व्यक्त की है। दुर्घटना में 17 लोगों की मौत हुई है।

Leave a Comment