उत्तरप्रदेश

मायावती बोलीं- बीजेपी को रोकने के लिए है BSP-SP का गठबंधन जरुरी

मायावती बोलीं- बीजेपी को रोकने के लिए है BSP-SP का गठबंधन जरुरी

उत्तरप्रदेश: राज्यसभा चुनाव में अपने उम्मीदवार की हार के बाद भी बीएसपी का एसपी साथ नहीं टुटा है। ऐसे में आज बसपा प्रमुख मायावती ने लखनऊ में बड़ी बैठक बुलाई। पहले मायावती बसपा विधायकों से मिलीं और फिर पार्टी के जोनल कोऑर्डिनेटर्स के साथ मीटिंग की गई। ये बैठक लगभग 20 मिनट तक की गई ।उन्होंने पार्टी नेताओं को संकेत दिया कि भाजपा के खिलाफ सपा-बसपा का गठबंधन होकर रहेगा।

बैठक से पहले मायावती ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि सपा-बसपा का गठबंधन स्वार्थपूर्ण नहीं हैबल्कि बीजेपी को रोकने के लिए महागठबंधन है।ये बीजेपी की गलत नीतियों के खिलाफ है। हमारे गठबंधन का दिल से देश में स्वागत किया गया है। हमारे ऊपर बीजेपी की बेकार की टिप्पणियों का कोई असर नहीं पड़ेगा। 2019 में बीजेपी को केंद्र में आने से रोक सकेंगे।

मायावती ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा की पीएम मोदी और उनकी पार्टी बीजेपी ने साढ़े चार साल में अल्पसंख्यकों, पिछड़े वर्ग और दलित समुदाय के नाम पर बहुत नाटक और दिखावे किए हैं। लेकिन अब न तो उन्हें और न ही उनकी पार्टी को इन नाटकों का कोई राजनीतिक फायदा नही मिलेगा।

मायावती ने अंबेडकर की विचारधारा और संविधान के खिलाफ के बीजेपी और RSS को बताया बीआर अंबेडकर का न्यायसंगत सामाजित व्यवस्था और मानवताबादी भारत बनाने का सपना बीजेपी और RRS शासन में कभी पूरा नहीं होगा।बैठक में बसपा के पार्टी पदाधिकारी के साथ-साथ विधायक और पूर्व विधायक शामिल सभी शामिल हुए। मायावती ने पहले पार्टी विधायकों के साथ बैठक की।2019 लोकसभा चुनाव में बीजेपी के खिलाफ मुकाबला करने के लिए सपा-बसपा हाथ मिलाने की संभावना है ।

Leave a Comment