उत्तरप्रदेश

बाराबंकी में अमीनाबाद के सर्राफ की बस में गोली मारकर हत्या

बाराबंकी में अमीनाबाद के सर्राफ की बस में गोली मारकर हत्या
लखनऊ। राजधानी लखनऊ से सटे बाराबंकी जिला में बदमाशों ने परिवहन निगम की बस को जबरन रुकवाकर लखनऊ के सर्राफ अमित रस्तोगी की गोली मारकर हत्या कर दी और जल्दबाजी में दूसरे यात्री का बैग लेकर भाग गए। सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गयी। पुलिस ने घायल अमित को त्रिवेदीगंज सीएचसी में भर्ती कराया। जहां उपचार के दौरान अमित की मौत हो गयी। सीएचसी पहुंचे एसपी वीपी श्रीवास्तव ने बदमाशों को जल्द पकड़ने की बात कही। एसपी के निर्देश पर पुलिस ने हाईवे व आसपास के इलाकों में देर रात तक सर्च अभियान चलाया, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। घटना के बाद से परिजनों में कोहराम मचा है।
जानकारी के मुताबिक, लखनऊ के अमीनाबाद के कटरा मकबूलगंज निवासी सर्राफ अमित रस्तोगी (38) पुत्र ज्ञानचंद्र की हैदरगढ़ में आभूषण की पुश्तैनी दुकान है। रोज की तरह बुधवार को वे अपने मुनीम अमीनाबाद निवासी सुरेश कुमार के साथ हैदरगढ़ चौराहे से लखनऊ जा रही सुल्तानपुर डिपो की एक बस में सवार हुए थे। जेवर व नकदी से भरा बैग मुनीम ने अपनी सीट के नीचे रख लिया था। लोनीकटरा थाना क्षेत्र अंतर्गत गौतोना के पास एक बाइक पर सवार तीन नकाबपोश बदमाशों ने बस को ओवरटेक कर करके बस को रुकवा लिया। बदमाश हेलमेट लगाए हुए थे। 
 
परिचालक की पीछे वाली सीट पर अमित बैठे थे। जब तक यात्री कुछ समझ पाते दोनों बदमाश बस के अंदर घुस गये। वे सीधे अमित के पास पहुंचकर उससे आभूषण से भरा बैग मांगने लगे। मुनीम ने बताया कि अमित को देखते ही बदमाश बैग पूछने लगे। अमित ने आनाकानी की तो एक बदमाश ने उसे गोली मार दी।इसी बीच, पैरों के पास रखे बैग को अमित ने जल्दी से पीछे सरका दिया। 
 
गोली लगते ही अमित सीट पर लुढ़क गया। जिसके बाद बस के यात्रियों में चीख-पुकार मच गयी। इससे बदमाश घबरा गये और हड़बड़ी में वे सर्राफ के बैग की जगह एक दूसरे यात्री का बैग लेकर भाग निकले। अमित को सीएचसी पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। एसपी के निर्देश पर पुलिस ने हाईवे व आसपास के इलाकों में देर रात तक सर्च अभियान चलाया, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। पुलिस बदमाशों की हुलिया के आधार पर उनकी तलाश में जुटी है।

Leave a Comment