भारत

हमें सरकार गठन का दावा करने का लोकतांत्रिक अधिकार है: सहस्त्रबुद्धे

हमें सरकार गठन का दावा करने का लोकतांत्रिक अधिकार है: सहस्त्रबुद्धे

नई दिल्ली। बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और राज्य सभा सांसद विनय सहस्त्रबुद्धे का कहना है कि उन्हें पूरा भरोसा है कि कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला राज्य में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी पार्टी को सरकार गठन के लिए आमंत्रित करेंगे। सहस्त्रबुद्धे ने कहा, मुझे पूरा भरोसा है कि सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते हमें सरकार गठन का दावा करने का लोकतांत्रिक अधिकार है और राज्यपाल हमारे दावे का निश्चित तौर पर सम्मान करेंगे।

राज्य में 12 मई को हुए चुनाव में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है लेकिन 224 सदस्यीय विधानसभा में जादुई आंकड़ा हासिल करने में विफल रही। भाजपा को 104 सीटें हासिल हुई हैं जो 224 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत हासिल करने के लिहाज से जरूरी 113 से थोड़ी कम हैं, जिसके चलते त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति उत्पन्न हो गई है। उन्होंने कहा, कर्नाटक चुनाव के नतीजे उम्मीद के अनुसार ही हैं। बेशक यह बेहतर होता अगर हम थोड़ा और आगे बढ़ते और पूर्ण बहुमत हासिल करते।

दौरे पर आए, सहस्त्रबुद्धे ने कहा कि राज्य में पार्टी के शानदार प्रदर्शन का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उल्लेखनीय नेतृत्व और केंद्र में भाजपा सरकार का प्रदर्शन को जाता है। कर्नाटक में कांग्रेस ने 78 सीटों पर जीत हासिल की है और जनता दल (सेक्युलर) को अपने समर्थन की घोषणा की है। राज्य विधानसभा चुनावों में जेडीएस 37 सीटों के साथ तीसरे नंबर की पार्टी बनी है।

Article हमें सरकार गठन का दावा करने का लोकतांत्रिक अधिकार है: सहस्त्रबुद्धे took from India’s Fastest Hindi News portal.

Leave a Comment