लाइफस्टाइल

भूख को न करें अवॉयड, वरना हो सकता है थायरॉयड

ऑफिस

अक्सर लोग सुबह जब ऑफिस के लिए तैयार होते हैं, तो वह भूख लगे होने पर भी जल्दी-जल्दी में नाश्ते को इंग्नोर कर देते हैं।ऐसे में जब उन्हें भूख लगती है तो उस पर ज्यादा ध्यान नहीं देते है। जिसकी वजह से उन्हें कई सारी बीमारियों का सामना करना पड़ता है।

ज्यादा से ज्यादा लोगों को भूख शाम के समय 4 से 6 के बीच लगती है।इस समय पेट बिल्कुल खाली-सा लगने लगता है। इस समय पेट में भूख के चूहे जोरो-शोरो से दौड़ने शुरू हो जाते हैं। उस भूख को अक्सर लोग नजरअंदाज कर देते हैं या फिर मोटे होने के डर से कुछ खाना खाते नहीं हैं।

आप भी कुछ ऐसा ही करते हैं तो इस बात को समझ लें कि शाम की भूख को नजरअंदाज करने से आप अपनी सेहत को नजरअंदाज कर रहे हैं। इससे आपको कई सारी बिमारियों का सामना करना पद सकता है। चलिए आज हम आपको बताएंगे सेहत सम्बंधी बीमारियों के बारे में।

खाएं हल्के-फूल्के स्नैक्स

मोटे होने की सोच में इस समय लगने वाली भूख को नजरअंदाज न करें। इस समय हल्का-फुल्का स्नैक्स खा सकते हैं। जिससे भूख भी शांत हो जाएगी और डिनर के लिए पेट में जगह भी बच जाएगी।

क्यों लगती है रात को भूख

शाम को भूख लगने की वजह है शरीर में कॉर्टिसॉल हॉर्मोन का कम होना। यह हॉर्मोन सुबह के समय तो बढ़ जाता है लेकिन शाम होते-होते इसका लेवल डाउन होनी शुरू हो जाता है। जिसके बाद भूख का एहसास होने लगता है। इससे बचने क लिए हमें पेट भरकर खा लेना चाहिए।

हो सकता है थायरॉयड

शाम को 4-6 के बीच लगने वाली भूख को नजरअंदाज करने का कारण शारीरिक पाचन क्रिया धीमी होनी शुरू हो जाती है। जिससे पीसीओडी और थायरॉयड जैसी समस्याओं के साथ इंसुलिन इंसेंसिटिविटी भी हो जाती है। इसीलिए शाम को भूख लगने पर कुछ न कुछ जरूर खाएं, चाहे इसके लिए डिनर स्किप करना पड़े।

शाम को क्यों खाना चाहिए भूना चना?

इस समय भूने चने का सेवन कर सकते हैं। इसमें मौजूद प्रोटीन,कैल्शियम और आयरन शरीर को तुरंत एनर्जी देते हैं।

Article भूख को न करें अवॉयड, वरना हो सकता है थायरॉयड took from Puri Dunia | पूरी दुनिया.

Leave a Comment