लाइफस्टाइल

हार्ट अटैक के अविवाहित मरीजों में मौत का खतरा ज्यादा: शोध

हार्ट अटैक के अविवाहित मरीजों में मौत का खतरा ज्यादा: शोध

एक शोध के मुताबिक यह बात सामने आई है कि अक्सर अकेले रहने वाले लोग उदास रहते हैं  रिसर्च में यह बात सामने आई है कि अविवाहित हार्ट पेशेंट को अधिकांश मौत का सामना करना पड़ता है अमेरिका के हार्ट एसोसिएशन की पत्रिका में पब्लिश खबरों के मुताबिक, जब इसकी तुलना शादीशुदा लोगों से की गई तो पता चला कि अविवाहित लोगों को मौत का खतरा हमेशा बना रहता है

यूएस की ईमोरी यूनिर्वसिटी के मेडिकल डिपार्टमेंट में प्रोफेसर, अर्शद कय्यूमी ने कहा, “मैं शादीशुदा लोगों के उपर हार्ट अटैक के होने वाले प्रभाव को देखकर आश्चर्यचकित हो गया  शादी करने से लोगों को सामाजिक  जिंदगी में मददगार साबित होती है यह हार्ट पेशेंट वाले लोगों के लिए बहुत मददगार  जरूरी हो जाती है ”

एक अध्ययन के अनुसार, यह इस्तेमाल उन लोगों पर किया गया जिनकी औसत आयु 63 वर्ष रही, ऐसे करीब 6,051 पेशेंट थे जिनपे ये इस्तेमाल हुआ ये वो लोग थे जिनका या तो तलाक हो गया या विधवा या फिर कभी विवाह नहीं हुई इस वजह से उन्हें बाद में दिल रोग से ग्रसित होना पड़ा

यह रिसर्च इन चार वर्षों में उन पेशेंट के ऊपर है जो दिल रोग से पीड़ित थे  इसमें पाया गया है कि शादीशुदा की तुलना में अविवाहित लोग हार्ट अटैक से 24 प्रतिशत ज्यादा मरते हैं  अध्ययन में ये भी बताया गया है कि जो हार्ट के मरीज होते हैं वो 40 फीसदी अविवाहित होते हैं

Article हार्ट अटैक के अविवाहित मरीजों में मौत का खतरा ज्यादा: शोध took from Poorvanchal Media | Breaking Hindi News| Current Hindi News| Latest Hindi News | National Hindi News | Hindi News Papers | Hindi News paper| Hindi News Website| Indian News Portal – Poorvanchalmedia.com.

Leave a Comment