मध्यप्रदेश

कृषक समृद्धि योजना : 9 करोड़ से अधिक की प्रोत्साहन राशि वितरित

1

सीधी—– राज्य सभा सांसद अजय प्रताप सिंह ने कहा कि किसानों को उनकी मेहनत और पसीने की पूरी क़ीमत देने के लिए सरकार कृत संकल्पित है। इसके लिये सरकार किसानों को पर्याप्त मात्रा में बिजली और सिंचाई की उपलब्धता सुनिश्चित करने के साथ-साथ उनकी उपज का उचित मूल्य दिलाने के लिए मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना के माध्यम से प्रोत्साहन राशि प्रदान कर रही है।

इसी प्रयास के अंतर्गत आज 7635 किसानों के 9 करोड 9 लाख 45 हजार 9 सौ 26 रुपये की प्रोत्साहन राशि डीबीटी के माध्यम से किसानों के खातों में जमा किये जा रहे हैं।

श्री सिंह जिले के शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय के परिसर में आयोजित मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजनांतर्गत रबी विपणन वर्ष 2017-18 में गेहूं उपार्जन पर प्रति क्विंटल 265रूपए के मान से कृषक प्रोत्साहन राशि वितरण समारोह एवं कृषक सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

सम्मेलन में सांसद रीती पाठक, विधायक धौहनी कुंवर सिंह टेकाम, अध्यक्ष विंध्य विकास प्राधिकरण सुभाष सिंह, अध्यक्ष जिला पंचायत सीधी अभ्युदय सिंह, अध्यक्ष नगर पालिका परिषद सीधी देवेंद्र सिंह, अध्यक्ष कृषि उपज मंडी समिति सीधी राजपति सिंह, उपाध्यक्ष जिला पंचायत राजमणि साहू, कलेक्टर दिलीप कुमार, अपर कलेक्टर डीपी वर्मन, लाल चंद्र गुप्ता, डॉ राजेश मिश्रा, केके तिवारी इंद्रशरण सिंह, सुरेश सिंह चौहान, उमेश सिंह चौहान, विक्रमादित्य सिंह चौहान, सुभास पाण्डेय, विनय सिंह,उपसंचालक कृषि के के पांडे, सहित जिला स्तरीय अधिकारी एवं बड़ी संख्या में कृषक उपस्थित रहे।

सांसद श्री सिंह ने कहा कि प्रदेश में पहले बिजली उत्पादन की क्षमता जहाँ 2900 मेगावाट थी आज वह बढ़कर 18,364मेगावाट हो गई है। इसी प्रकार पहले जहाँ केवल 7.5लाख हेक्टेयर में सिंचाई हो पाती थी आज लगभग 40 लाख सेक्टर में सिंचाई सुविधा उपलब्ध है जिसे प्रदेश सरकार अगले पाँच वर्षों में 80लाख हेक्टेयर तक करने के लिए प्रयासरत हैं। प्रदेश की सरकार गरीबों को हर प्रकार की सुविधाएँ मुहैया लिए संकल्पित है। इसके लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना का शुभारंभ किया है।

इस योजना के अंतर्गत भूमिहीनों को भूमि, आवासहीनों को आवास प्रदान किया जाएगा। गर्भवती माताओं को उनके पोषण के लिए 4 हज़ार रूपये तथा प्रसव के बाद 12हज़ार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इसके साथ ही इस योजना के अंतर्गत दो सौ रुपये प्रतिमाह की दर से बिजली ग़रीब परिवारों को प्रदान की जाएगी। उनके बच्चों को कक्षा 1से उच्च स्तर तक की शिक्षा नि शुल्क प्रदान की जाएगी। इस योजना का शुभारंभ मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा 13 जून को किया जाएगा।

सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए सांसद श्रीमति पाठक ने कहा कि किसान अन्नदाता है, किसान है तो जीवन है, किसानों की ख़ुशहाली में ही देश की ख़ुशहाली है। केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार किसानों की आय को दोगुना करने के लिए कृत संकल्पित है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों के लिए बहुत सारी महत्वपूर्ण योजनाएं चलायी है जैसे स्वायल हेल्थ कार्ड, प्रधानमंत्री फ़सल बीमा योजना आदि। इसके साथ ही केंद्र सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य को डेढ़ गुना कर किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य दिलाने के लिए एक महत्वपूर्ण प्रयास किया है।

सम्मेलन में कृषकों को आधुनिक पद्धति से खेती करने के तरीक़े एवं पशुपालन, मधुमक्खी पालन आर्थिक गतिविधियों के साथ आय में वृद्धि करने के तरीक़ों के विषय में विस्तार से कृषि वैज्ञानिक डॉ धनंजय सिंह, डॉ अलका सिंह, डॉ महेंद्र सिंह बघेल द्वारा बताया गया।

सम्मेलन स्थल पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में जबलपुर में आयोजित राज्य स्तरीय किसान महासम्मेलन का एलईडी स्क्रीन के माध्यम से सीधा प्रसारण किया गया] जिसको उपस्थित किसानों ने देखा एवं सुना। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किसानों के लिये तथा अन्य वर्गों के लिए चलायी जा रही विभिन्न योजनाओं को विस्तार से बताया।

विजय सिंह
स्वतंत्र पत्रकार
19, अर्जुन नगर सीधी

Leave a Comment