मध्यप्रदेश

विवादों के बीच पहली बार ग्वालियर बेस पर पहुंचे फ्रांस के तीन राफेल लड़ाकू विमान

विवादों के बीच पहली बार ग्वालियर बेस पर पहुंचे फ्रांस के तीन राफेल लड़ाकू विमान

ग्वालियर। राफेल लड़ाकू विमान सौदे पर मचे राजनैतिक विवाद के बीच फ्रांस के तीन राफेल लड़ाकू विमान इंडियन एयरफोर्स के ग्वालियर बेस पर पहुंचे। ये तीनों फाइटर जेट फ्रांस के उस बेड़े का हिस्सा हैं जो हाल ही में आॅस्ट्रेलिया में संपन्न हुई ‘पिच ब्लैक’ एक्सरसाइज का हिस्सा है। जिसमें इंडियन एयरफोर्स ने भी शिरकत की थी।

रविवार से शुरू हुए तीन दिवसीय प्रशिक्षण में फ्रांस एयरफोर्स के पायलट एयरबेस पर भारतीय वायुसेना के पायलटों को न केवल राफेल के संबंध में जानकारी देंगे बल्कि भारतीय वायुसेना के सुखोई विमान को उड़ाकर दोनों विमानों के बीच का अंतर भी समझाएंगे। इस दौरान संयुक्त अभ्यास के लिए कुछ पायलटों का चयन भी किया जाएगा।

ऑस्ट्रेलिया में हुए पिच ब्लैक युद्धभ्यास में भारतीय वायुसेना के ट्रांसपोर्ट और सुखोई-30 विमानों ने हिस्सा लिया था। ग्वालियर एयरबेस पर रविवार से शुरू हो रहे इस साझा अभ्यास के दौरान फ्रांस के पायलट उन्नत मिराज-2000 विमान उड़ाएंगे जबकि भारतीय वायुसेना के पायलट राफेल लड़ाकू विमान पर अभ्यास करेंगे। आने वाले दिनों में राफेल लड़ाकू विमान भारत पहुंचने शुरू हो जाएंगे और इससे पहले भारतीय पायलटों के लिए यह एक अच्छा अनुभव होगा।

Article विवादों के बीच पहली बार ग्वालियर बेस पर पहुंचे फ्रांस के तीन राफेल लड़ाकू विमान took from India’s Fastest Hindi News portal.

Leave a Comment