मध्यप्रदेश

सामूहिक विवाह/निकाह — दिव्यांग जोड़ों को 2-2 लाख रुपये की अतिरिक्त राशि

भोपाल :(राजेश मलिक)——- मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने धार जिले के कुक्षी नगर में आयोजित सामूहिक विवाह/निकाह सम्मेलन में 1254 नव-दम्पत्तियों को खुशहाल वैवाहिक जीवन का आशीर्वाद दिया।

यह सम्मेलन मध्यप्रदेश शासन की मुख्यमंत्री कन्या विवाह/निकाह योजना के अंतर्गत आयोजित किया गया। सम्मेलन में 1235 हिन्दू जोड़ों का वैदिक मंत्रोच्चार के साथ विवाह सम्पन्न करवाया गया। साथ ही, 19 मुस्लिम जोड़ों का निकाह मुस्लिम रीति-रिवाज से काजी साहब द्वारा सम्पन्न करवाया गया।

सम्मेलन में दिव्यांग जोड़ों को 2-2 लाख रुपये की अतिरिक्त राशि प्रदान की गई। नव-विवाहित दम्पत्तियों को राज्य शासन की योजनानुसार घर-परिवार की आवश्यक सामग्री और विवाह प्रमाण-पत्र प्रदान किये गये।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नव-दम्पत्तियों को आशीर्वाद देते हुए कहा कि भारतीय संस्कृति में सभी धर्मों को सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है। सभी वर्गों और धर्मों में बेटियाँ वंदनीय और देवी तुल्य हैं। उन्होंने कहा कि समाज में किसी भी वर्ग में बेटा और बेटी के बीच भेदभाव नहीं होना चाहिये। उन्होंने कहा कि बेटी है, तो कल है, इसलिये बेटियों को दुनिया में आने दो।

श्री चौहान ने कहा कि बेटियों को परिवार के लिये वरदान साबित करने के उद्देश्य से ही मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री कन्यादान और मुख्यमंत्री लाड़ली लक्ष्मी जैसी योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। बेटियों को पढ़ने और आगे बढ़ने के लिये नि:शुल्क किताबें तथा साइकिलें दी जा रही हैं, नौकरियों में आरक्षण दिया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने महिला सशक्तिकरण के उद्देश्य से सभी व्यवस्थाएँ सुनिश्चित की हैं। इसी का परिणाम है कि शासकीय सेवाओं के साथ-साथ पंचायतों और नगरीय निकायों में भी महिलाएँ महत्वपूर्ण पदों पर सफलतापूर्वक कार्य कर रही हैं।

श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार ने सभी वर्गों की बेटियों और महिलाओं की तरक्की तथा सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये हैं। श्रमिक परिवारों की महिलाओं के लिये भी यह व्यवस्थाएँ की गई हैं।

मुख्यमंत्री ने धामनोद में पिछले दिनों दुष्कर्म की घटना पर तत्परतापूर्वक कार्यवाही होने तथा आरोपियों को सजा दिलाने पर पुलिस-प्रशासन की सराहना की। उन्होंने कहा कि महिलाओं से बदसलूकी किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जायेगी। श्री चौहान ने गुंडे-बदमाशों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही करने का अभियान चलाने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर दिव्यांग नव-दम्पत्ति भीमबाई और माधव सिंह को प्रतीक स्वरूप 2 लाख रुपये की अतिरिक्त सहायता राशि का चैक तथा विवाह प्रमाण-पत्र प्रदान किया। इसी के साथ कुक्षी नगर के विकास से संबंधित 5 करोड़ रुपये लागत के निर्माण कार्यों की घोषणा भी की।

सामूहिक विवाह सम्मेलन में जिले के प्रभारी मंत्री श्री अंतर सिंह आर्य, सांसद श्रीमती सावित्री ठाकुर, विधायक श्रीमती रंजना बघेल, श्री सुरेन्द्र सिंह बघेल, श्री वेलसिंह भूरिया, श्री कालू सिंह ठाकुर, नगर पालिका अध्यक्ष श्री मुकाम सिंह किराड़े, अन्य जन-प्रतिनिधि तथा वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारी भी मौजूद थे।

Leave a Comment