मध्यप्रदेश

बेटी की तरफ कोई नजर उठाए तो ठोको, काेई पूछे तो बोलना मेरा आदेश है: सीएम शिवराजसिंह

बेटी की तरफ कोई नजर उठाए तो ठोको, काेई पूछे तो बोलना मेरा आदेश है: सीएम शिवराजसिंह

नीमच(मध्यप्रदेश). बेटियों को बचाना, पढ़ाना और आगे बढ़ाना होगा। बेटियों की तरफ कोई नजर उठाकर देखे तो उसे ठोको, मारो और काेई पूछे तो बोलना शिवराजसिंह चौहान का आदेश है। महिलाएं किसी गुंडे को मारती है तो मुझे अच्छा लगता है। हमने बेटियों के साथ गलत हरकत करने वालों को फांसी देने के लिए कानून बनाने के लिए प्रस्ताव राष्ट्रपति के पास भेजा है। कानून बनते ही ऐसे लोगों को फांसी दी जाएगी। यह बात सीएम शिवराजसिंह चौहान ने नीमच में आयोजित अंत्योदय मेले में कही।

शिक्षा विभाग में 50 प्रतिशत पदों पर बेटियों की भर्ती की जाएगी

सीएम शिवराज ने कहा कि नीमच जिले में 1 हजार पर 959 बेटियां पैदा हो रही हैं और लिंगानुपात काफी अच्छा है। देश में मां, बहन और बेटी का सम्मान होना चाहिए। प्रदेश में वन विभाग को छोड़कर सभी विभागों में 33 फीसदी तथा शिक्षा विभाग में 50 प्रतिशत पदों पर बेटियों की भर्ती की जाएगी।

पंजीकृत मजदूरों को 2022 तक पक्के मकान बनाकर देने का किया एलान

सीएम ने आगे कहा कि प्रदेश के पंजीकृत मजदूरों को 2022 तक पक्के मकान बनाकर देंगे। 1 से 14 अप्रैल तक मजदूरों के पंजीयन का अभियान चलाया जाएगा ताकि उन्हें रहने के लिए आवासीय जमीन का पट्टा देकर मालिक बनाया जा सके। इसमें 2.5 एकड़ से कम भूमि तथा जो आयकर दाता नहीं हो ऐसे श्रमिक पंजीयन करा सकेंगे।

समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचना जरूरी नहीं, लेकिन पंजीयन अनिवार्य

साथ ही सीएम चौहान ने कहा कि गरीब मजदूर के बच्चों की पहली से कॉलेज तक पढ़ाई के दौरान की फीस सरकार भरेगी। इलाज की सुविधा, परिवार में कमाने वाले मुखिया की मौत पर परिवार को 2 लाख रुपए, अंतिम संस्कार के लिए 5 हजार रुपए सरकार देगी। 3200 रुपए क्विंटल रहेंगे लहुसन के भाव- भावांतर योजना में लहसुन 3200 रुपए प्रति क्विंटल में खरीदी की जाएगी। गेहूं का मूल्य 1735 रुपए प्रति क्विंटल तय किया है। 265 रुपए प्रति क्विंटल शासन बोनस देगी। इसके लिए समर्थन मूल्य पर गेहूं बेचना जरूरी नहीं, लेकिन पंजीयन अनिवार्य होगा।

Leave a Comment