राजनीति

हुसैन के मातम में पहुंचे मोदी, शिवराज ने कहा- अगर कोई समाज अनुशासित है तो वो बोहरा समाज

हुसैन के मातम में पहुंचे मोदी, शिवराज ने कहा- अगर कोई समाज अनुशासित है तो वो बोहरा समाज

नई दिल्लीः पीएम मोदी शक्रवार को दौरे पर इंदौर पहुंचे जहां उन्होंने दाऊदी बोहरा समुदाय के धर्मगुरु सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन से मिले। पीएम के इस दौरे को आगामी चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है।

पीएम मोदी और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इंदौर में हो रहे सैफी मस्जिद में दाऊदी बोहरा समुदाय के 53वें धर्मगुरु सैयदना डॉ. मुफद्दल सैफुद्दीन के धार्मिक प्रवचन सुनने पहुंचे । इस समारोह में चौहान ने कहा कि ऐसा अपने मुल्क से मोहब्बत करने वाला, दूसरों की मदद करने वाला और अगर कोई समाज अनुशासित है तो वो बोहरा समाज है।

बता दें कि दाऊदी बोहरा समुदाय इस्माइली शिया इस्लाम का उप-समुदाय है। दाऊदी बोहरा दुनियाभर में फैले हुए हैं। दाऊदी बोहरा समुदाय को काफी समृद्ध, पढ़ा-लिखा और शांतिप्रिय समुदाय के रूप में जाना जाता है, जो एक जिम्मेदार नागरिक की तरह सिर्फ अपने काम से मतलब रखते हैं।

दाऊदी बोहरा समुदाय अपनी प्राचीन परंपराओं से पूरी तरह जुड़ा हुआ कौम है, जिनमें सिर्फ अपने ही समाज में ही शादी करना शामिल है। आबादी ज्यादा होने से यह दो हिस्सों में बंट गया। पहला समुदाय दाऊदी बोहरा कहलाया, जबकि दूसरे समुदाय को सुलेमानी कहते हैं। सुलेमानियों का मुख्यालय अभी भी यमन में है, जबकि दाऊदी बोहराओं का मुख्यालय मुंबई में है, क्योंकि भारत में दाऊदी बोहराओं की आबादी सबसे ज्यादा है।

ये भी पढ़ें……भारत में गांजा को वैध कर देना चाहिए क्योंकि यह राजस्व का बड़ा स्रोत है: उदय चोपड़ा

दाऊदी बोहरा समुदाय के लोग मुख्य रूप से गुजरात के सूरत, अहमदाबाद, जामनगर, राजकोट, दाहोद, और महाराष्ट्र के मुंबई, पुणे व नागपुर, राजस्थान के उदयपुर व भीलवाड़ा और मध्य प्रदेश के उज्जैन, इंदौर, शाजापुर जैसे शहरों और कोलकाता व चैन्नै में रहते हैं। मुंबई के भिंडी बाजार, मझगांव, क्राफर्ड मार्केट, भायखला, बांद्रा, सांताक्रुज और मरोल में इनकी संख्या काफी ज्यादा है।

Article हुसैन के मातम में पहुंचे मोदी, शिवराज ने कहा- अगर कोई समाज अनुशासित है तो वो बोहरा समाज took from Puri Dunia | पूरी दुनिया.

Leave a Comment