धर्मं

हनुमान जयंती : यहाँ वानरराज संभालते हैं अध्यक्ष का पद, राम हैं संरक्षक

हनुमान जयंती : यहाँ वानरराज संभालते हैं अध्यक्ष का पद, राम हैं संरक्षक

मध्यप्रदेश। आज देशभर में हनुमान जयंती की धूम मची है। मंदिरों में विशेष पूजा अर्चना की जा रही है। धर्म शास्त्रों के अनुसार चैत्र मास की पूर्णिमा के दिन भगवान हनुमान का जन्म हुआ था। इस पर्व को हनुमान जयंती के रूप में पूरे देश में मनाया जाता है। इस बार हनुमान जयंती 31 मार्च, शनिवार को है। आज हम आपका बता रहे है। हनुमान जयंती के उपलक्ष्य में एक हनुमान मंदिर के बारे में जहां हनुमान संभालते हैं। अध्यक्ष का पद, और राम हैं संरक्षक। इंदौर के पूर्वी क्षेत्र में स्थित आस्था केंद्र निरालाधाम कई वजह से निराला है। अन्य मंदिरों की तरह यहां भी 7 पदाधिकारी हैं और 11 सदस्यीय कार्यकारिणी समिति है, लेकिन यहाँ ये पद कोई मनुष्य नहीं संभालते है। हर जिम्मेदारी किसी न किसी देवी-देवता के पास है। अध्यक्ष की जिम्मेदारी अंजनी पुत्र हनुमान और संरक्षक की भूमिका कौशल्यानंदन भगवान श्रीराम संभालते हैं। इस तरह 11 हजार वर्गफीट में बने निरालाधाम में ईश्वरीय सत्ता चलती है। मंदिर में प्रवेश करने के लिए भक्तों को प्रसाद और चढ़ावा नहीं लाना पड़ता, बल्कि 108 बार राम नाम लिखने की शर्त है। रामनाम लिखने के लिए विशेष कार्ड दिया जाता है, जिसमें 108 बॉक्स बने हैं। इन्हीं में राम नाम लिखना होता है। Image result for वैभव नगर हनुमान मंदिरअन्य पदाधिकारियों में सचिव भोलेनाथ, कोषाध्यक्ष कुबेर, सुरक्षा अधिकारी यमराज, लेखा-जोखा अधिकारी चित्रगुप्त, वास्तुविद् भगवान विश्वकर्मा हैं। कार्यकारिणी सदस्य भगवान दत्तात्रेय, लक्ष्मीनारायण, भरत, शत्रुघ्न, पार्वती, माता काली, लक्ष्मण, पार्श्वनाथ, मां दुर्गा, मां अन्नपूर्णा, भगवान सत्यनारायण हैं। मंदिर का निर्माण 1990 में कनाड़िया रोड स्थित वैभव नगर में शुरू हुआ जो आज भी जारी है। संचालक प्रकाशचंद वागरेचा की आस्था है कि यहां जो भी कार्य हो रहा है वह हनुमानजी करा रहे हैं।
Related image

Leave a Comment