खेल

IPL 2018: चेन्नई के सामने है फिर से ‘सुपर’ बनने की चुनौती

IPL 2018: चेन्नई के सामने है फिर से ‘सुपर’ बनने की चुनौती

चेन्नई सुपर किंग्स दो साल के अंतराल के बाद फिर आईपीएल में धमाल मचाने के लिए तैयार है। टीम की कमान फिर कप्तान महेंद्र सिंह धौनी के हाथ में है। यह टीम हर बार सेमीफाइनल में पहुंची है। हालांकि टीम को इस बार स्पिनर आर अश्विन की काफी कमी खलेगी, जिन्हें फ्रेंचाइजी नीलामी में नहीं खरीद सकी। चेन्नई सुपरकिंग्स ने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी, विस्फोटक बल्लेबाज सुरेश रैना और आलराउंडर रवींद्र जडेजा को रिटेन किया।

उत्तर प्रदेश के 30 वर्षीय लेगब्रेक स्पिनर कर्ण शर्मा पर चेन्नई ने पांच करोड़ की बोली लगातार सभी को चौंका दिया। यह इस सीजन किसी खिलाड़ी पर लगाई गई फ्रेंचाइजी की दूसरी सबसे बड़ी बोली थी। चोट से उबरने वाले केदार जाधव आईपीएल में शानदार प्रदर्शन कर राष्ट्रीय टीम में वापसी करने की कोशिश करेंगे। जाधव पर चेन्नई ने सर्वाधिक 7.8 करोड़ की बोली लगाई।

टीम दो बार रह चुकी है विजेता

बता दें कि चेन्नई सुपरकिंग्स टीम के कप्तान हैं महेंद्र सिंह धौनी। वहीं उसके कोच हैं स्टीफन फ्लेमिंग और टीम 2010 और 2011 में चैंपियन रह चुकी हैं। अगर टीम के शानदार रिकॉर्ड की बात करें तो 8 बार सर्वाधिक सेमीफाइनल में पहुंचने वाली टीम रह चुकी हैं और 6 बार चेन्नई सर्वाधिक फाइनल में पहुंच चुकी है। टीम अब तक 4 बार हारी है। टीम के गठन की अगर बात की जाए तो टीम में इस बार कुल 25 खिलाड़ी है। टीम फ्रेंचाइजी ने इस बार टीम पर करीब 47 करोड़ रुपये खर्च किए हैं।

Leave a Comment