खेल

ओसाका ग्रैंडस्लैम जीतने वाली जापान की पहली महिला खिलाड़ी, सेरेना ने अंपायर को चोर कहा

न्यूयॉर्क : जापान की 20 वर्षीय नाओमी ओसाका ने यूएस ओपन के फाइनल में 6 बार की चैम्पियन अमेरिका की सेरेना विलियम्स को सीधे सेटों में 6-2, 6-4 से हरा दिया। इस के साथ ही पुरुष या महिला किसी भी वर्ग में ओसाका ग्रैंडस्लैम जीतने वाली जापान की पहली खिलाड़ी बन गयी। ओसाका ने पहला सेट आसानी से जीत लिया। दूसरे सेट में सेरेना वापसी की कोशिशें कर रही थीं। उल्‍लेखनीय है कि ओसाका ने सेरेना को इस साल दूसरी बार हराया। इस दौरान उनके कोच पर कथित रूप से हाथ से इशारा करने पर एक गेम का जुर्माना लगा। चेयर अंपायर ने कोच की हरकत को नियमों का उल्लंघन माना। चेयर अंपायर कार्लोस रामोस के फैसले के बाद सेरेना ने गुस्से में अपना रैकेट पटक दिया। हालांकि बाद में उन्होंने माफी मांगी।

सेरेना ने कहा, बेईमानी की बजाय हारना पसंद करुंगी सेरेना ने गुस्से में अंपायर को कथित रूप से चोर भी कहा। बाद में इसका खंडन करते हुए सेरेना ने अंपायर से कहा, “मैं आपसे माफी मांगती हूं। मैंने कभी बेईमानी नहीं की। मेरी एक बेटी है और मैं उसके सामने एक अच्छा उदाहरण प्रस्तुत करना चाहती हूं। बेईमानी के बजाय मैं मैच हारना पसंद करूंगी।”
खिताब जीतने के बाद ओसाका ने कहा, “मुझे पता था कि यहां सब सेरेना का समर्थन करेंगे। उनके लिए तालियां बजाएंगे। मेरा सपना था कि मैं यूएस ओपन का फाइनल सेरेना के खिलाफ खेलूं।” उन्होंने सेरेना की तरफ झुककर उन्हें धन्यवाद भी दिया।

Leave a Comment