खेल

कबड्डी नीलामी में प्लेयर्स की करोडों में खरीदारी, मोनू गोयत सबसे महंगे

कबड्डी नीलामी में प्लेयर्स की करोडों में खरीदारी, मोनू गोयत सबसे महंगे
pro Kabaddi league auction : players sold, top buys bids, records

मुंबई। प्रो कबड्डी लीग का जलवा इस कदर सिर चढ़कर बोलने लगा है कि पहले सत्र की नीलामी में सबसे महंगा खिलाड़ी 12 लाख रूपए में बिका था जबकि छठे सत्र की नीलामी में सबसे महंगे खिलाड़ी की कीमत 1.51 करोड़ रूपए पहुंच गई है।

वीवो प्रो कबड्डी लीग की छठे सत्र की दो दिन चली नीलामी में 12 फ्रैंचाइजी ने कुल 181 खिलाडियों को खरीदा और खिलाडियों को खरीदने पर 45.93 करोड़ रुपए की रकम खर्च की।

वीवो प्रो कबड्डी लीग की छठे सत्र की नीलामी में एक नहीं बल्कि छह-छह करोड़पति खिलाड़ी पैदा कर दिए हैं। ईरान के फज़ल अत्राचली को यू मुम्बा ने जब एक करोड़ रुपए में खरीदा तो सभी की आंंखें हैरत से फैल गई थीं लेकिन इसके बाद जो हुआ उसने कबड्डी में नया इतिहास बना दिया।

इसके बाद पांच खिलाड़ियों ने एक करोड़ रूपए की कीमत को पार कर लिया। कबड्डी नीलामी में कीमत ऐसी रही कि इसने कुश्ती, बैडमिंटन और फुटबाल लीग के खिलाड़ियों को पीछे छोड़ दिया।

हरियाणा स्टीलर्स ने रेडर मोनू गोयत को 1.51 करोड़ रूपए की कीमत पर खरीदा जबकि तेलुगू टाइटंस ने राहुल चौधरी को 1.29 करोड़, जयपुर पिंक पैंथर्स ने दीपक निवास हुडा को 1.15 करोड़ रुपये, पुणेरी पल्टंस ने नितिन तोमर को 1.15 करोड़ और यूपी ने रिषांक देवाडिगा को 1.11 करोड़ रूपये में खरीदा। इससे पहले तक नितिन तोमर पांचवें सत्र में 93 लाख रुपये की कीमत के साथ सबसे महंगे खिलाड़ी थे।

कबड्डी लीग के इतिहास में यह पहली बार हुआ जब छह खिलाड़ियों ने एक करोड़ रूपए की कीमत को पार किया। इससे पहले पांच संस्करणों में किसी भी खिलाड़ी को एक करोड़ रूपए की कीमत नहीं मिल पाई है।

नीलामी के दूसरे दिन गुरूवार को बी वर्ग के खिलाड़ियों में प्रशांत कुमार राय को यूपी योद्धा ने 79 लाख, चंद्रन रंजीत को दबंग दिल्ली ने 61.25 लाख, विकास खंडोला को हरियाणा स्टीलर्स ने 47 लाख, धर्मराज चेरालाथन को यू मुम्बा ने 46 लाख और विशाल माने को दिल्ली ने 45 लाख रुपये में खरीदा।

सर्वाधिक कीमत पाने वाले मोनू गोयत ने बड़ी खुशी के साथ कहा कि मुझे खुशी और हैरानी दोनों है कि मैं इस सत्र में सर्वाधिक कीमत पाने वाला खिलाड़ी बन गया है। मुझपर अब बेहतरीन प्रदर्शन करने की भारी जिम्मेदारी आ गयी है और मैं अपना सर्वश्रेष्ठ खेल दिखाने की पूरी कोशिश करूंगा।

सबसे पहले एक करोड़ पाने वाले फज़ल अत्राचली ने कहा कि अपने दूसरे घर यू मुम्बा में लौटकर मैं बहुत खुश हूं। इस टीम के साथ मेरा सफर शुरू हुआ था। प्रो कबड्डी लीग का पहला करोड़पति खिलाड़ी बनना मेरे लिए एक बड़ा सम्मान है। अत्राचली का बेस प्राइस मात्र 20 लाख रुपए था।

दीपक ने कहा कि मैं बेहद रोमांचित हूं। लेकिन मैं जयपुर के लिए आगामी सत्र में अपनी जिम्मेदारी को समझता हूं। मैं काफी गौरव महसूस कर रहा हूं। मुझे यह तो उम्मीद थी कि एक करोड़ के आसपास बोली लगेगी लेकिन बोली यहां तक पहुंचेगी यह उम्मीद नहीं थी। मैं पुणे टीम को मिस करूंगा जिसके साथ मैं तीन सत्रों तक खेला।

नीलामी में भारतीय खिलाड़ियों में सुरेंदर नाडा को हरियाणा स्टीलर्स ने 75 लाख, संदीप कुमार धुल को जयपुर ने 66 लाख, रण सिंह को बंगाल वारियर्स ने 43 लाख,मंजीत छिल्लर को तमिल तलईवास ने 20 लाख, कुलदीप सिंह को पटना पाइरेट्स ने 22 लाख, श्रीकांत तेवतिया को बंगाल ने 25 लाख, प्रवेश भैंसवाल को गुजरात टीम ने 35 लाख, जीवा कुमार को यूपी योद्धा ने 45 लाख, मोहित छिल्लर को जयपुर ने 58 लाख, महेंद्र सिंह को बेंगलुरु बुल्स ने 40 लाख और दर्शन जे को तमिल टीम ने 28 लाख रुपए में खरीदा।

विदेशी खिलाड़ियों में ईरान के अबुजर को तेलुगू टाइटंस ने 76 लाख, जियाउर रहमान को बंगाल ने 33.25 लाख और जांग कुन ली को बंगाल ने 33 लाख रुपए में खरीदा।

Article कबड्डी नीलामी में प्लेयर्स की करोडों में खरीदारी, मोनू गोयत सबसे महंगे took from Sabguru News.

Leave a Comment