खेल

सहवाग ने की धोनी की तारीफ, बताया आखिर क्यों 2019 वर्ल्ड कप तक माही का टीम में होना है जरूरी

सहवाग ने की धोनी की तारीफ, बताया आखिर क्यों 2019 वर्ल्ड कप तक माही का टीम में होना है जरूरी

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग के मुताबिक भारतीय पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का वनडे टीम में होना बेहज जरूरू है। धोनी मैदान पर युवा खिलाड़ियों को अच्छी तरह से हैंडल कर सकते हैं। वीरेंद्र सहवाग का कहना है कि अगले साल इंग्लैंड एवं वेल्स में होने वाले विश्व कप टूर्नामेंट को भारतीय टीम तभी जीत सकती है, अगर युवा खिलाड़ियों को महेंद्र सिंह धोनी के मार्गदर्शन में प्रशिक्षित किया जाए। सहवाग ने कहा कि धोनी के प्रदर्शन और रणनीति की बदौलत भारत ने 2011 में विश्व कप का खिताब जीता था। ग्लोबल इंडियन इंटरनेशनल स्कूल (जीआईईएस) में आयोजित एक परिचर्चा में सहवाग ने कहा, “एक युवा खिलाड़ी के रूप में मैंने अपना पहला विश्व कप टूर्नामेंट सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और अनिल कुंबले के साथ 2003 में खेला था। ये सब मेरी मदद कर रहे थे।” सहवाग ने कहा, “वर्तमान में भारतीय टीम में शामिल युवा खिलाड़ियों के पास धोनी जैसे अच्छे वरिष्ठ खिलाड़ी हैं, जो उनका मार्गदर्शन कर सकते हैं और उन्हें 2019 विश्व कप की तैयारी के लिए प्रशिक्षित कर सकते हैं।”

पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग।
साल 2011 में हुए विश्व कप में अपने अनुभव के बारे में सहवाग ने कहा, “इस टूर्नामेंट से दो साल पहले हमारी टीम की एक बैठक हुई थी, जहां हमने यह फैसला लिया था कि हम इस विश्व कप के हर मैच को नॉकआउट मैच की तरह देखेंगे। अगर हम हारे, तो हम विश्व कप से बाहर हो गए समझो। हमने इसके सभी मैच जीते और फाइनल में पहुंचे। इसी प्रकार हमने तैयारी की थी।”

सहवाग ने कहा, ”धोनी ना सिर्फ बल्ले और विकेटकीपिंग से बल्कि अनुभव से भी टीम के लिए बेहद उपयोगी है। भारतीय टीम को 2019 वर्ल्डकप के दौरान अगर बेहतर प्रदर्शन करना है तो उन्हें हर हाल में धोनी को टीम में जगह देनी होगी। युवा खिलाड़ियों के बारे में बात करते हुए सहवाग ने कहा कि मनीष पांडे, श्रेयस अय्यर और ऋषभ पंत जैसे खिलाड़ी को भी 2019 वर्ल्डकप में अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका दिया जा सकता है।

Leave a Comment