टेक्नोलॉजी

Facebook ने हिंदुस्तान में चुनाव के लिए बढ़ाई सुरक्षा

Facebook ने हिंदुस्तान में चुनाव के लिए बढ़ाई सुरक्षा
फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने बोला है कि उनकी कंपनी हिंदुस्तान में आने वाले चुनाव में शुचिता सुनिश्चित करने के लिए अपने सुरक्षा चक्र को मजबूत कर रही है. अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप का अभियान संभालने वाली कैंब्रिज एनालिटिका द्वारा इस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के पांच करोड़ यूजरों का डाटा चोरी किए जाने के बाद विवादों में घिरे जुकरबर्ग ने बोला कि न्यूज से छेड़छाड़ करने  चुनावों को प्रभावित करने की प्रयास कर रहे फर्जी एकाउंट का पता लगाने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) टूल का सहारा लिया जा रहा है.

कंपनी के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने डाटा चोरी पर पहली बार खोला मुंह

न्यूयॉर्क टाइम्स को दिए गए एक साक्षात्कार में चुनाव को प्रभावित करने में फेसबुक के दुरुपयोग पर पहली बार सार्वजनिक चर्चा करते हुए उन्होंने बोला कि पहली बार इस एआई टूल का प्रयोग 2017 में फ्रांस के चुनाव में किया गया था. इस नए टूल के जरिए हमने 30 हजार फर्जी एकाउंटों का पता लगाया है, जो संभवत: रूसी स्रोतों से जुड़े हुए हैं.

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस टूल के सहारे विकसित किया नया तंत्र

अमेरिका के बाद वे फ्रांस के चुनाव को भी प्रभावित करने की प्रयास में थे लेकिन हमने उन्हें बड़े पैमाने पर उन्हें ऐसा करने से रोक दिया. इसके अतिरिक्त अलाबामा के चुनाव में मेसीडोनिया से संचालित किए जा रहे फेक न्यूज प्रसारित करने वाले फर्जी एकाउंटों को बंद करने में सफलता मिली है.

माना कि गलती हुई, माफी भी मांगी

जुकरबर्ग ने सीएनएन को दिए एक साक्षात्कार में अपने दो अरब यूजरों से ‘बड़े विश्वासघात’ पर माफी मांगते हुए यह स्वीकार किया कि उनसे गलती हुई है. उन्होंने कैंब्रिज एनालिटिका पर भरोसा किया जिसने उनके साथ विश्वासघात किया. उन्होंने बोला कि कंपनी भविष्य में इसकी पुनरावृत्ति रोकने के लिए कड़े कदम उठा रही है.

डाटा चोरी पर जारी सियासत

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कैंब्रिज एनालिटिका से कांग्रेस पार्टी के संबंधों को लेकर पार्टी को आड़े हाथ लिया है. बृहस्पतिवार को नयी दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने बोला कि पिछले वर्ष अक्तूबर  नवंबर में कांग्रेस पार्टी द्वारा इस कंपनी की सेवाएं लेने के विषय में मीडिया में खूब चर्चा हुई लेकिन कांग्रेस पार्टी चुप्पी साधे रही. अब पांच महीने बाद मामला खुलने पर इससे भाग रही है. कांग्रेस पार्टी इस संबंध को झूठला नहीं सकती क्योंकि इसके सबूत मौजूद हैं.

मोसुल मुद्दे से ध्यान हटाने की कोशिश

कांग्रेस पार्टी ने पलटवार करते हुए बोला है कि मोदी गवर्नमेंट इराक के मोसुल में मारे गए 39 हिंदुस्तानियों के मुद्दे से ध्यान हटाने के लिए डाटा चोरी का मामला लेकर आई है. पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्विट किया कि गवर्नमेंट 39 हिंदुस्तानियों की मौत के मामले में झूठ बोलती हुई पकड़ी गई, तो इससे निकलने के लिए डाटा चोरी की कहानी गढ़ी गई. नतीजजन, हिंदुस्तानियों की मौत की समाचार मीडिया से गायब हो गई  इस तरह गवर्नमेंट की समस्या सुलझ गई.

Article Facebook ने हिंदुस्तान में चुनाव के लिए बढ़ाई सुरक्षा took from Poorvanchal Media Group.

Leave a Comment