टेक्नोलॉजी

आपके जैसे वोटर्स को फंसाने के लिए कैसे होता है Facebook डाटा का इस्तेमाल?

आपके जैसे वोटर्स को फंसाने के लिए कैसे होता है Facebook डाटा का इस्तेमाल?
पिछले हफ्ते से ही फेसबुक के डाटा लीक को लेकर बवाल मचा हुआ है. के बाद से ही लगातार रिसर्च किए जा रहे हैं कि डाटा का प्रयोग कहां-कहां हुआ, कैसे हुआ, कौन-कौन सी दूसरी कंपनियां इसमें शामिल हैं? इस खुलासे के बाद इंडियन पॉलिटिक्स में भी भूचाल आ गया है. पहले नमो ऐप पर डाटा को दूसरे राष्ट्रों के साथ शेयर करने का आरोप लगा, उसके बाद कांग्रेस पार्टी के ऐप पर भी यही आरोप लगा. आनन-फानन में नमो ऐप की प्राइवेसी बदली  कांग्रेस पार्टी ने तो ऐप को प्ले-स्टोर से ही हटा दिया, लेकिन बड़ा सवाल यह है कि आखिर फेसबुक के डाटा का चुनावों कैसे प्रयोग होता है  डाटा के जरिए वोटर्स के मिजाज को कैसे बदला जा सकता है? आइए जानते हैं.
Image result for आपके जैसे वोटर्स को फंसाने के लिए कैसे होता है Facebook डाटा का इस्तेमाल?

फेसबुक डाटा से चुनाव प्रचार में कैसे मिलती है मदद?

यह तो आप भी जानते हैं कि जिन बातों को आप भूल चुके हैं, उन्हें भी फेसबुक ने अपने पास संभालकर रखा है. आप क्या लाइक करते हैं, किस पार्टी के पेज को अनुसरण करते हैं, किस नेता के बारे फेसबुक पोस्ट करते हैं, आप खबर कहां से पढ़ते हैं  किस तरह की न्यूज आपको पसंद है? फेसबुक इन सभी जानकारियों का बारिकी से अध्ययन करता है.

कैसे होता है डाटा का इस्तेमाल?
आपके डाटा का सबसे ज्यादा प्रयोग एडवरटाईजमेंट के लिए होता है. आपकी फेसबुक पर पसंद नापसंद के आधार पर फेसबुक आपको एडवरटाईजमेंट दिखाता है. उदाहरण के लिए, अगर आप पीएम नरेंद्र मोदी के पेज के अनुसरण करते हैं तो आपको पीएम मोदी से संबंधित एडवरटाईजमेंटदिखाए जा सकते हैं. वहीं अगर आप किसी कार, बाइक या एक्टर को पसंद करते हैं उससे संबंधित खबरें एडवरटाईजमेंट के रूप में आपकी टाइमलाइन पर दिखेंगी.

जी नहीं, कैंब्रिज एनालिटिका ने इस तरह के डाटा का प्रयोग नहीं किया है. कैंब्रिज एनालिटिका ने एक ऐप के जरिए डाटा का प्रयोग किया है जिसका नाम है thisisyourdigitallife है. यह एक तरह का क्विज ऐप है. इस ऐप में फेसबुक के जरिए लॉगिन कराया जाता था  फिर आपसे व्यक्तिगत सवाल पूछे जाते थे. इस ऐप में जो प्रश्न पूछे जाते थे उनमें अधिकांश सवाल पॉलिटिक्स से जुड़े होते थे. इन डाटा के माध्यम से फेसबुक पर आपको कई प्रकार के एडवरटाईजमेंट दिखाए जाते हैं. ये एडवरटाईजमेंट पहले सेव किए गए डाटा के आधार पर दिखाए जाते हैं जिनमें आपकी लोकेशन, रूची, राजनीतिक पक्ष शामिल हैं.

Article आपके जैसे वोटर्स को फंसाने के लिए कैसे होता है Facebook डाटा का इस्तेमाल? took from Poorvanchal Media Group.

Leave a Comment