दुनिया

मैंने सुलझाई नॉर्थ कोरिया की समस्या, पर अभी नहीं हटेंगे प्रतिबंध: ट्रंप

डोनाल्ड ट्रंप और किम की मीटिंग खत्म, किम ने कहा- ये मुलाकात नहीं थी आसान

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और नॉर्थ कोरिया के सुप्रीम लीडर किम जोंग उन के बीच 12 जून को हुई मुलाकात के बाद दुनिया में शांति का एक संदेश गया. उत्तर कोरिया ने वादा किया है कि वह अपने परमाणु हथियारों को निरस्त करेगा. लेकिन लगता है कि अभी भी ट्रंप को किम पर पूरा भरोसा नहीं है. डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को कहा कि वह उत्तर कोरिया के खिलाफ मौजूदा प्रतिबंध यह आश्वस्त होने के बाद ही उठाएंगे कि उसके पास अब परमाणु हथियार नहीं है.

एक इंटरव्यू में ट्रंप बोले कि जब हम पूरी तरह से आश्वस्त हो जाएंगे कि अब कोई परमाणु हथियार नहीं है. उसके बाद ही किसी तरह के प्रतिबंध को हटाने के बारे में सोचेंगे.

उन्होंने कहा कि हम इसकी शुरुआत के काफी करीब हैं. उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन ऐसा करना चाहते हैं, किम अपने देश के लिए कुछ बड़ा काम करना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि वह अपने देश को महान बनाना चाहते हैं.

‘मैंने हल की परमाणु समस्या’
वहीं अपनी मुलाकात के बारे में उन्होंने कहा कि उन्होंने उत्तर कोरियाई परमाणु समस्या को काफी हद तक हल कर लिया है और दक्षिण कोरिया के साथ युद्ध को टाल कर काफी पैसा बचाया है.

ट्रंप ने व्हाइट हाउस के बाहर पत्रकारों से बात करते हुए उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के साथ शिखर सम्मेलन के बाद दक्षिण कोरिया के साथ संयुक्त सैन्य अभ्यास को एकतरफा रोकने के अपने फैसले का बचाव किया.

उन्होंने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने उनके कार्यभार संभालने से पहले कहा था कि अमेरिका के लिए ‘‘सबसे खतरनाक समस्या’’ उत्तर कोरिया का परमाणु हथियार कार्यक्रम है. ट्रंप ने कहा, मैंने इस समस्या का समाधान कर दिया है और समस्या को काफी हद तक सुलझा लिया गया है.

Leave a Comment