दुनिया

फेसबुक से डाटा चोरी होने के मामले में मार्क जुकरबर्ग ने मानी गलती, कहा-हम उठाएंगे जरुरी कदम

मार्क जुकरबर्ग

सैन फ्रांसिस्को| सोशल नेटवर्किंग साईट फेसबुक से डाटा चोरी होने की खबर से सनसनी मची हुई है। सभी फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग की चुप्पी को लेकर सवाल उठा रहे थे। लेकिन बुधवार को इस मामले में मार्क जुकरबर्ग ने अपनी सफाई पेश की है।

कैम्ब्रिज एनालिटिका स्कैंडल मामले में अपनी गलती स्वीकार करते हुए जुकरबर्ग ने फेसबुक पोस्ट कर कहा, “मैं कैंब्रिज एनालिटिका को लेकर अपनी बात रखना चाहता हूं। हम इस दिशा में समस्याओं से निपटने के लिए जरूरी कदम उठा लिए हैं। मैं यह समझने की कोशिश की दिशा में काम कर रहा हूं कि असल में हुआ क्या और इसे दोबारा होने से कैसे रोका जाए।” जुकरबर्ग ने कहा कि अच्छी खबर यह है कि इसे रोकने के लिए जो जरूरी कदम हमने आज उठाए हैं, वे असल में कई वर्षो पहले ही उठा लिए गए थे लेकिन हमने फिर भी गलतियां कीं लेकिन अब हमें इन्हें दोबारा होने से रोकने के लिए कमर कसने की जरूरत है।”

जुकरबर्ग का कहना है कि कंपनी उन सभी एप की जांच करेगी, जिनके जरिए बड़ी मात्रा में जानकारियां हासिल की गई।  वह कहते हैं, “निजी जानकारियों का दुरुपयोग या उनसे छेड़छाड़ करने वालों डेवलेपर्स पर प्रतिबंध लगाया जाएगा। इसके साथ ही संदिग्ध गतिविधियों वाले सभी एप की जांच की जाएगी।

5 करोड़ यूजर्स का डाटा चोरी 

आपको बता दें कि एक ब्रिटिश परामर्शदाता कंपनी कैंब्रिज एनालिटिका के आरोपों के बाद फेसबुक भारी मुश्किलों का सामना कर रहा है। कैंब्रिज एनालिटिका ने फेसबुक पर पांच करोड़ फेसबुक उपभोक्ताओं के डेटा का इस्तेमाल बिना उनकी अनुमति के राजनेताओं के लिए करने का आरोप लगाया है। इसमें अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप व ब्रेक्सिट प्रचार अभियान भी शामिल हैं।

ब्रिटिश सांसदों ने रखी मांग 

यूरोपीय संघ (ईयू) व ब्रिटिश सांसदों की मांग है कि सोशल मीडिया दिग्गज फेसबुक को व्यक्तिगत डेटा का बड़े स्तर पर राजनीतिक उद्देश्यों के लिए दुरुपयोग होने के खुलासे के बाद डेटा सेंधमारी पर स्पष्टीकरण देना चाहिए। ब्रिटिश सांसदों ने जुकरबर्ग को पहले की सुनवाई में समिति को गुमराह करने के बाद मौखिक गवाही देने के लिए बुलाया है।

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने आरोपों पर चिंता जताई कि कैंब्रिज एनालिटिका ने लाखों फेसबुक उपभोक्ताओं के डेटा का बिना अधिकार के चुनाव प्रचार में फायदा उठाया है। फेसबुक ने पहले ही कैंब्रिज एनालिटिका को अपने प्लेटफार्म से निलंबित कर दिया है। सोशल मीडिया दिग्गज ने कबूल किया है कि करीब 2,70,000 लोगों ने एप को डाउनलोड किया और इसके साथ अपनी निजी जानकारियां साझा की हैं। हालांकि, कंपनी ने सभी गलतियों से इनकार किया और जोर देकर कहा कि वह डेटा प्राप्त करने व इसका इस्तेमाल करने में सही प्रक्रियाओं का पालन करती है।अब सबको जुकरबर्ग के जवाब का इंतजार है।

Article फेसबुक से डाटा चोरी होने के मामले में मार्क जुकरबर्ग ने मानी गलती, कहा-हम उठाएंगे जरुरी कदम took from Puri Dunia | पूरी दुनिया.

Leave a Comment