दुनिया

राजनयिकों के निष्कासन पर रूस ने दी बदले की चेतावनी

 ताशकंद : रूस ने अमेरिका पर रूसी राजनयिकों के निष्कासन के लिए अपने सहयोगियों पर ‘‘जबरदस्त दबाव’’ डालने का आरोप लगाते हुए कहा कि वह जल्द ही इसके खिलाफ जवाबी कार्रवाई करेंगा। रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने उज्बेकिस्तान में कहा कि, यह जबरदस्त दबाव, भारी ब्लैकमेलिंग का नतीजा है जो अंतरराष्ट्रीय मंच पर अमेरिका का मुख्य हथकंडा रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘हम जवाब देंगे, इसमें कोई शक नहीं। कोई भी ऐसा अशिष्ट व्यवहार नहीं रखना चाहेगा और हम भी नहीं चाहते। उल्लेखनीय है कि 22 देशों की सरकारों ने राजनयिक कार्रवाई के तहत उनके यहां कार्य कर रहे रूस के कम से कम 120 रूसी राजनयिको को देश छोड़ने का आदेश दिया है। अकेले अमेरिका ने 60 रूसी अधिकारियों को दूतावास और वाणिज्य दूतावासों को छोड़ने का आदेश दिया है। सिएटल में रूस का वाणिज्य दूतावास बंद कर दिया गया है।
इतने बड़े स्तर पर कोई कार्रवाई शीत युद्ध के दौरान भी जासूसों को ले कर विवाद में नहीं की गई थी। पहले से ही उक्रेन और सीरिया को ले कर रूस के साथ अमेरिका और उसके सहयोगियों के रिश्ते तल्ख थे। इस विवाद से पश्चिम के साथ रूस के संबंध नए निम्न स्तर पर चले गए हैं।

Leave a Comment